महामीडिया न्यूज सर्विस
भारत -जापान के प्रधानमंत्री आज गुजरात में

भारत -जापान के प्रधानमंत्री आज गुजरात में

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 39 दिन 19 घंटे पूर्व
13/09/2017
जापान के PM का भारत दौरा आज से 
अहमदाबाद(महामीडिया):  जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे आज से दो दिन के भारत दौरे पर आ रहे हैं। अहमदाबाद में नरेंद्र मोदी उनकी अगवानी करेंगे। आबे की विजिट की दो अहम वजहें हैं। पहली- 2022 तक शुरू होेने वाली अहमदाबाद-मुंबई बुलेट ट्रेन के प्रोजेक्ट का भूमिपूजन। दूसरी- इंडिया-जापान एनुअल समिट। इस समिट में चीन को घेरने के लिए एशिया-अफ्रीका ग्रोथ कॉरिडोर पर चर्चा से लेकर सिविल न्यूक्लियर कोऑपरेशन और सी-प्लेन डील पर चर्चा हो सकती है। आबे की विजिट के पहले दिन बुधवार को मोदी उन्हें 500 साल पुरानी मस्जिद ?सिद्दी सैयद की जाली? भी लेकर जाएंगे। दोनों की सिक्युरिटी के लिए गुजरात पुलिस के 9000 जवान तैनात किए गए हैं।  दोपहर 3:30 बजे : आबे अहमदाबाद एयरपोर्ट पहुंचेंगे। यहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा। इसके बाद यहीं से 8 किमी लंबा रोड शो निकाला जाएगा। गुजरात बीजेपी यूनिट के प्रेसिडेंट जीतूभाई वाघानी ने बताया-देश में ऐसा पहली बार होगा कि हमारे पीएम किसी दूसरे देश के पीएम के साथ ज्वाइंट रोड शो करेंगे।शाम 5:45 बजे : मोदी और आबे साबरमती आश्रम पहुंचेंगे। शाम 6 बजे : दोनों नेता सिद्दी सैयद की जाली पर पहुंचेंगे। ये 500 साल पुरानी मस्जिद है। यहां मार्बल से बने जालीदार रोशनदान और खिड़कियां हैं जो दुनियाभर में मशहूर हैं।शाम 6:25 बजे : मोदी शिंजाे आबे के सम्मान में अगाशिए हैरिटेज होटल में डिनर देंगे। यहां आबे को गुजराती डिशेस परोसी जाएंगी।रात 9 बजे : आबे हयात होटल लौट जाएंगे। यहां आबे के सम्मान में जापानी मंदिर के दरवाजे जैसा मॉडल बनाया गया है।
ये हैं कार्यक्रम
प्रधानमंत्री आबे और मैं 13 तथा 14 सितंबर को कई कार्यक्रमों में भाग लेंगे, इन कार्यक्रमों का मकसद भारत..जापान संबंधों को और आगे बढ़ाना है. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा कि दोनों नेता अहमदाबाद और मुंबई के बीच भारत की पहली हाई..स्पीड ट्रेन परियोजना की शुरुआत के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होंगे. इस ट्रेन से दोनों शहरों के बीच यात्रा में लगने वाले समय में खासी कमी आएगी. हाई-स्पीड ट्रेन के मामले में जापान एक अग्रणी देश है और उसकी शिंकानसेन बुलेट ट्रेन दुनिया की सबसे तेज ट्रेनों में से है.
साबरमती आश्रम भी जाएंगे
आबे के लिए शाम अहमदाबाद में एक स्वागत समारोह आयोजित किया जाएगा, जिसमें विभिन्न प्रस्तुतियों के जरिए भारत की सांस्कृतिक विविधताओं को प्रदर्शित किया जाएगा. दोनों प्रधानमंत्री साबरमती आश्रम जाएंगे. इस आश्रम की स्थापना महात्मा गांधी ने साबरमती नदी के किनारे की थी. इसके बाद दोनों अहमदाबाद की 16वीं शताब्दी में बनी प्रसिद्ध मस्जिद सिदी सैयद की जाली भी जाएंगे. दोनों नेता महात्मा मंदिर में बनी दांडी कुटीर भी जाएंगे जो महात्मा गांधी को समर्पित संग्रहालय है. इस मस्जिद की खास बात है कि शाम के वक्त जब ढलते सूरज की किरणें मस्जिद की जाली से निकलती हैं, तो वह नजारा अद्भुत होता है. पीएम मोदी खुद इस मस्जिद के बारे में शिंजो को बताएंगे.
सिदी सैयद की जाली मुगलकाल के दौरान बनी आखिरी मस्जिद
इस मस्जिद को 1573 में बनवाया गया था और यह अहमदाबाद में मुगल काल के दौरान बनी मस्जिद है. मस्जिद के पश्चिमी ओर की खिड़की पर पत्‍थर पर बनी जाली का काम पाया जाता है, जो पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है. बाहर परिसर में पत्‍थर से ही नक्‍काशी और खुदाई करके एक पेड़ का चित्रांकन किया गया है जो उस काल की शिल्‍प कौशल की विशिष्‍टता को दर्शाता है. यह शहर के व्‍यस्‍ततम इलाके में स्थित है.
पीएम मोदी ने किया ट्वीट
पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि वह प्रधानमंत्री शिंजो आबे का स्वागत करने को उत्सुक हैं. उन्होंने कहा कि वह गुजरात में उनकी अगवानी करेंगे. यह दोनों की चौथी सालाना बैठक होगी. प्रधानमंत्री मोदी ने अंग्रेजी के अलावा जापानी भाषा में भी ट्वीट किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत जापान के साथ अपने संबंधों को काफी महत्व देता है तथा हम विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय रिश्तों को और आगे बढ़ाने के लिए आशान्वित हैं. ??नरेंद्रमोदी डाट इन?? पर एक बयान में कहा गया है कि दोनों नेता ??विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी?? के ढांचे में भारत और जापान के बीच बहुआयामी सहयोग में हालिया प्रगति की समीक्षा करेंगे.

और ख़बरें >

समाचार