महामीडिया न्यूज सर्विस
दुर्गात्सव 21 सितम्बर से आरंभ होगा

दुर्गात्सव 21 सितम्बर से आरंभ होगा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 701 दिन 14 घंटे पूर्व
16/09/2017
सिवनी [महामीडिया]: इस वर्ष 21 सितम्बर से प्रारंभ हो रहे नवरात्र पर्व को लेकर श्रद्धालु उत्साहित हैं। देवी दुर्गा को संसार की शक्ति का आधार माना गया है । वेदों और पुराणों मे देवी दुर्गा का वर्णन देवी भगवती और आदि शक्ति महागौरी आदि नामों से किया गया है। देवी भागवत में वर्णन किया गया है कि आश्विन मास में मां भगवती की पूजा करने से मनुष्य का कल्याण होता है। इस वर्ष शारदीय नवरात्र की तिथियां निर्धारित हैं। 21 सितम्बर इस दिन घटस्थापना शुभ मुहूर्त सुबह 7 बजकर 53 मिनट से लेकर 10 बजकर 8 मिनट एवं अपरांह 4 बजे से 5:39 तक का होना है। तुलाराम जी दुबे शा़स्त्री द्वारा बताया गया कि नवरात्र के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा की जाती है । 22 सितम्बर नवरात्र के दूसरे दिन देवी ब्रहा्रचारिणी की पूजा की जाती है। 3 को नवरात्र के तीसरे दिन देवी दुर्गा के चन्द्रघंटा रूप की आराधना की जाती है। नवरात्र पर्व के चौथे दिन मां भगवती के देवी कुष्मांडा स्वरूप की उपासना की जाती है। नवरात्र के पांचवें दिन भगवान कार्तिक की माता स्कंदमाता की पूजा की जाती हैं।
नारदपुराण के अनुसार आश्विन शुक्ल षष्ठी यानि शारदीय नवरात्र के छठे दिन मां कात्यायनी की पूजा करनी चाहिए। नवरात्र के सातवें दिन मां कालरात्रि की पूजा का विधान है। नवरात्र के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है। इस दिन कई लोग कन्या पूजन भी करते हैं। नौंवे दिन भगवती के देवी सिद्धदात्री स्वरूप का पूजन किया जाता है। सिद्धिदात्री की पूजा से नवरात्र में नवदुर्गा पूजा का अनुष्ठान पूर्ण हो जाता है। हिन्दू पंचाग अनुसार इस साल 10 दिनों का यह पर्व है। इसलिए 31 सितम्बर को ही विजयदशमी या दषहरा भी मनाया जाएगा। इस दिन कई जगह शस्त्रपूजा भी की जाती है। 
शारदीय नवरात्र पर्व को पारम्परिक रूप मनाने विगत दिवस युवा मण्डल रघुनाथ कॉलोनी लखनादौन में एक बैठक आयोजित कर सर्वसम्मति से दुर्गात्सव समिति का गठन किया गया। जिसमें अध्यक्ष सीएल गौर, उपाध्यक्ष एसएसठाकुर, विजय लाहोरिया, सचिव दिलीप अग्रवाल, सहसचिव विनीत जैन एवं कोषाध्यक्ष रामकुमार गौर को चुना गया है। जबकि कार्यकरणी सदस्यों में सीएल सिंग, अधारीलाल यादव, अशोक श्रीवास्तव, आरसी जैन, देवप्रिय मिश्रा, आरएस पटैल, जीएन सिन्हा, पीपी सर्वे व अन्य के नाम शामिल हैं।

और ख़बरें >

समाचार