महामीडिया न्यूज सर्विस
नवरात्रि के ९ दिन , परम आनंद की अनुभूति

नवरात्रि के ९ दिन , परम आनंद की अनुभूति

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 686 दिन 9 घंटे पूर्व
01/10/2017
शारदीय नवरात्रि के ९ दिन देवी भगवती की पूजन आराधना और साधना के पवित्र पवन दिन हैं। इस नवरात्रि में महर्षि जी के वैदिक पंडितों ने जो सहस्र चंडी महायज्ञ किया उससे परम आनंद की अनुभूति हुई, चेतना की-आत्मा की पूर्ण जाग्रति हुई, चेतना में स्थित समस्त देवताओं का जागरण हुआ, देवताओं की अनंत शक्ति एवं सामर्थ्य से साक्षात्कार हुआ तथा महर्षि जी के समस्त शुभ संकल्पों की पूर्ति का वातावरण निर्मित हुआ।  संकल्प है - समस्त मानव जाति एवं विश्व का कल्याण हो, सभी को सुख समृद्धि ज्ञान उत्तम स्वास्थ्य की प्राप्ति हो, प्रबुद्धता की प्राप्ति हो, स्थाई शांति की स्थापना हो, परस्पर सद्भावना हो, सर्व समर्थ ओजवान तेजवान चेतना युक्त नव पीढ़ी का उदय हो, सर्वत्र विजय हो एवं प्रत्येक व्यक्ति व राष्ट्र अजेयता को प्राप्त हो, भारत वर्ष के शाश्वत सनातन वैदिक ज्ञान विज्ञानं की पताका संपूर्ण विश्व में सर्वोच्च प्रतिष्ठित होकर अनंत काल तक लहराए एवं विश्व परिवार का मार्गदर्शन करे। आइये हम सब जीवन में पूर्ण सफलता, विजय एवं अजेयता के इस पावन पर्व पर उल्लास पूर्वंक उत्सव मनाएं। शुभ विजया दशमी। जय देवी महासरस्वती, जय देवी महालक्षी, जय देवी महादुर्गा, जय देवी महाकाली, जय श्रीराम, जय गुरु देव, जय महर्षि।

और ख़बरें >

समाचार