महामीडिया न्यूज सर्विस
बैटरी अदला-बदली व्यवस्था से इलेक्ट्रिक कार क्रांति को मिलेगा बल- एडीबी

बैटरी अदला-बदली व्यवस्था से इलेक्ट्रिक कार क्रांति को मिलेगा बल- एडीबी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 48 दिन 2 घंटे पूर्व
24/10/2017
नई दिल्ली (महामीडिया) एशियाई विकास बैंक का कहना है कि बैटरी की अदला-बदली व्यवस्था से फौरी तौर पर भारत में इलेक्ट्रिक कार क्रांति को बल मिल सकता है। उल्लेखनीय है वाहनों से होने वाले प्रदूषण से परेशान भारत इस पर काबू पाने के प्रयासों के तहत इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा दे रहा है। सरकार 10,000 इलेक्ट्रिक कारें खरीदने के लिए निविदा की घोषणा पहले ही कर चुकी है। वहीं 50,000 इलेक्ट्रिक तिपहिया वाहनों के लिए विनिर्माता कंपनियों से निविदाएं इस साल के आखिर तक आमंत्रित किए जाने की संभावना है। एडीबी की वेबसाइट पर एक आलेख में लिखा गया है कि भारतीय सड़कों पर छह लाख से अधिक ऐसे इलेक्ट्रिक रिक्शे चल रहे हैं जिनमें सीसे-अम्ल की बैटरी लगी हैं। हर वाहन में बैटरी को पूरी तरह चार्ज करने में 8-9 घंटे लगते हैं और बैटरी को साल में दोबार बदलना पड़ता है। इसमें लिखा गया है, इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए भारत की पहल आगे बढ़ रही है लेकिन अनेक चुनौतियां कायम हैं। इनमें से एक तो चार्जिंग के लिए बुनियादी ढांचे का अभाव है।
और ख़बरें >

समाचार