महामीडिया न्यूज सर्विस
ब्राजील 12 साल बाद फाइनल का टिकट कटाने उतरेगा

ब्राजील 12 साल बाद फाइनल का टिकट कटाने उतरेगा

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 772 दिन 20 घंटे पूर्व
25/10/2017
 कोलकाता। विवेकानंद युवाभारती क्रीड़ांगन 48 घंटों के शार्ट नोटिस पर एक और ऐतिहासिक मैच की मेजबानी को तैयार है। बुधवार को यहां इंग्लैंड और ब्राजील में होने वाले फीफा अंडर-17 विश्व कप के पहले सेमीफाइनल को सही मायने में 'क्लैश ऑफ द टाइटंस' कहा जा सकता है।एक तरफ फुटबॉल का जनक तो दूसरी तरफ चैंपियन फुटबॉलर पैदा करने वाला देश। इस मैच को टूर्नामेंट के अब तक के सबसे कड़े मुकाबले के तौर पर देखा जा रहा है। दो अजेय टीमें 28 अक्टूबर को इसी ग्राउंड में होने वाले फाइनल का टिकट कटाने के लिए आपस में जोरआजमाइश करेंगी।
इतिहास बेशक ब्राजील के साथ है। लैटिन अमेरिकी टीम इससे पहले पांच दफा फाइनल में पहुंच चुकी है और तीन बार खिताब भी जीती है। वहीं इंग्लैंड कभी फाइनल में नहीं पहुंचा है। इंग्लैंड क्वार्टर फाइनल में अमेरिका को 4-1 से हराकर पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचा है। इंग्लिश टीम शुरू से ही लय में है, जबकि ब्राजील भी क्वार्टर फाइनल में जर्मनी पर 2-1 की जीत दर्ज कर टॉप गियर में आ चुका है। उसकी नजर 12 साल बाद फिर खिताबी मुकाबले में पहुंचने पर होगी। ब्राजील ने पिछली बार 2005 में अंतिम दो में जगह बनाई थी, हालांकि खिताबी जंग में उसे मैक्सिको से 3-0 से शिकस्त झेलनी पड़ी थी।
इस लेवल पर किसी को भी कमतर आंकना बेमानी होगी। दोनों टीमों के पास भविष्य के कई सुपरस्टार हैं, जो अपनी छाप छोड़ चुके हैं। इंग्लैंड के वंडर किड जेडोन सैंचो के लीग राउंड के बाद लौट जाने का टीम पर कोई असर नहीं पड़ा है। इंग्लिश टीम के पास कैलम हडसन-ओडोई, फिलिप फोडेन व रियान ब्रीवस्टर की बेहद खतरनाक तिकड़ी है। ब्रीवस्टर ने पिछले मैच में अकेले तीन गोल दागे थे। इंग्लैंड के पास एंजेल गोमेज जैसा आक्रामक खिलाड़ी भी है।दूसरी तरफ ब्राजील के तरकश में भी एक से बढ़कर एक खिलाड़ी हैं। पालिन्हो, वेवरसन, ब्रेनर और लिंकन अपने बूते मैच का रुख बदलने का माद्दा रखते हैं। पालिन्हो और वेवरसन ने पिछले मैच में ये साबित भी किया था।
यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगी कि कोलकाता के दर्शक ब्राजील का साथ देंगे। इसे महान फुटबॉलर पेले के देश की टीम के लिए जरूर एक बड़ा एडवांटेज माना जा सकता है। कोलकाता के लोग पारंपरिक रूप से ब्राजील के मुरीद रहे हैं। शायद यही बात पेले को 1977 में यहां खींच लाई थी। दो साल पहले भी पेले दूसरी बार कोलकाता आए थे।

और ख़बरें >

समाचार

MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in