महामीडिया न्यूज सर्विस
अब कोई पंजा गरीबों का हक नहीं छीन सकता- मोदी

अब कोई पंजा गरीबों का हक नहीं छीन सकता- मोदी

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 686 दिन 5 घंटे पूर्व
05/11/2017
ऊना (महामीडिया) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के ऊना में भारत माता की जय के साथ भाषण शुरू किया। पीएम ने कहा कि ऊना की धरती गुरुओ की नगरी है, कल ही हमने गुरुनानक देव जी का स्मरण किया और आज मुझे गुरु की धरती पर आने का सौभाग्य मिला। उनके मुताबिक, प्रेम कुमार धूमल कह रहे थे कि ऊना हिमाचल का प्रदेश द्वार है, मुझे भी इस प्रवेश के साथ मां का आशीर्वाद प्राप्त हुआ। मेरा ये तीसरा दिन है, जिसमे मुझे आपका आशीर्वाद मिला, बहुत चुनाव देखे हैं, लड़े भी लड़वाए भी हैं। कोई ऐसा गांव नहीं, जिसमे मैंने वालंटियर के नाते जमीन पर बैठ कर काम न किया हो।लोकसभा चुनाव में पहुंचा था, अब विधानसभा के चुनाव में पहुंचा हूं, यहां तो आंधी चल रही है। भ्रष्टाचार के खिलाफ, जनसामान्य का गुस्सा फूट पड़ा है। हिमाचल की जनता ने फैसला कर लिया है। नतीजे बताएंगे कि यह चुनाव क्या है। मोदी ने कहा कि मजा नहीं आ रहा है। इसलिए कांग्रेस मैदान छोड़कर भाग गई। कांग्रेस के नेता आते और कुछ तो करते। हिमाचल की जनता ने कांग्रेस को सबक सिखाने का मन बना लिया है। कांग्रेस पार्टी मैदान छोड़कर भाग गई है, क्योंकि इस बार हिमाचल की जनता ने कांग्रेस को सबक सिखाने का मन बना लिया है। यह एक तरफा चुनाव है, जिसमें कांग्रेस एक्सपोज हो गई है। कोई पंजा अब देश की तिजोरी नहीं लूट सकता। इस बार कमल के बटन पर ऐसे उंगली दबाएं कि कांग्रेस का नाम भूल जाएं लोग। मोदी ने कहा कि देश के करोड़ों रुपये चोरी से हमने बचाए। स्कूलों में भ्रष्टाचार रोका। आधार के कारण चोरी रोकी। जो बेटी जन्मी नहीं वही विधवा हो गई। ऐसी चोरियां हुईं। बिचौलियों की चोरी रोकी। 57000 करोड़ रुपये बिचौलिए खाते थे, मोदी ने उनके ताले बंद कर दिए। मोदी मेहनत करता है, भागदौड़ करता है। विपक्षी मोदी-मोदी-मोदी करते हैं। खिचड़ी कच्ची रह गई तो मोदी, बारिश नहीं आई तो मोदी, मौसम खराब तो मोदी। जिनकी लूट की दुकान मोदी ने बंद की, वे मोदी से प्यार थोड़ी करेंगे। सरकारें आती जाती रहती हैं...देश अजर अमर है। मोदी ने कहा कि लोग हक मांगते हैं, गैर जरूरी चीजें नहीं। मोदी ने कहा कि ऊना-हमीरपुर रेलवे लाइन के विषय में कुछ याद है??? जनता से पूछा। 35 साल पुरानी योजना थी। मैंने कागज खुलवाए। वे दिन दूर नहीं जब यह योजना पूरी होगी।  जब धूमल की यहां सरकार थी और केंद्र में अटल जी की थी तब हिमाचल पर्यटन में छा गया था। अब फिर दो सरकारें बनाने का मौका आया है। मोदी ने ऊना के ट्रिपल आईटी का ज़िक्र किया। पीएम ने कहा कि देश में विकास पर ही चर्चा हो, मैं यह चाहता हूं। उनके मुताबिक, जीएसटी का विरोध किसी व्यापारी ने नहीं किया।पहले करों की भरमार थी। चुंगी नाके पर घंटों ट्रक खड़े रहते थे। मैंने दो ढाई हजार की चुंगी खत्म की, जिससे मध्य वर्ग को राहत मिली। उनके मुताबिक, दिल्ली में बैठे लोगों को ही सारी बुद्धि भगवान ने दी है, ऐसा नहीं। हमने कहा था। जीएसटी को तीन माह देखेंगे। कोई परेशानी आएगी तो हल करेंगे। जीएसटी काउंसिल में हमने चीजें ठीक की। पीएम ने कहा कि अब भी जो समस्याएं आएंगी, उन्हें दूर करेंगे। सबसे बात करके बढ़ेंगे, हम चीजें थोपते नहीं हैं। सरकार का मन विशाल है। बेनामी संपत्ति की बड़ी चर्चा है। मिस्टर क्लीन राजीव गांधी के समय से हुई। 30 साल पुरानी बात है। कानून बनाया देश ने, तब सरकार के लोग ही डर गए। सोचा, अपने पैरों पर कुल्हाड़ी नहीं मारेंगे। 30 साल से कानून ठंडे बस्ते में था। अब 30 साल के बाद देश की जनता ने मुझे अवसर दिया। हमने कानून को टाइट किया। इसलिए परेशानी है। बड़े-बड़े नेता, बाबू। कोई ड्राइवर के नाम पर, कोई बर्तन धोने वाली के नाम पर। अब डर है उन्हें की मोदी मारेगा। मोदी का कैमरा घूम रहा है। इसलिए तूफान खड़ा करने वाले हैं।

और ख़बरें >

समाचार