महामीडिया न्यूज सर्विस
टाटा संस के बोर्ड में दो नए चेहरे

टाटा संस के बोर्ड में दो नए चेहरे

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 191 दिन 39 मिनट पूर्व
18/11/2017
मुंबई (महामीडिया) टाटा समूह के मुख्य वित्तीय अधिकारी सौरभ अग्रवाल और टाइटन कंपनी के प्रबंध निदेशक भास्कर भट्ïट को समूह की होल्डिंग कंपनी टाटा संस के निदेशक मंडल में शामिल किया गया है। टाटा संस ने आज जारी एक बयान में इसकी घोषणा की है।  यह घोषणा ऐसे समय में की गई है जब समूह के दिग्गज इशत हुसैन कुछ ही समय पहले सितंबर के आरंभ में 70 वर्ष की आयु पूरी करने के बाद टाटा संस एवं समूह की अन्य कंपनियों के बोर्ड से सेवानिवृत्त हुए हैं। हुसैन टाटा संस के वित्त निदेशक भी थे और उम्मीद की जा रही थी कि हुसैन की सेवानिवृत्ति के बाद अग्रवाल को बोर्ड में शामिल किया जा सकता है। टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने एक बयान में कहा, निदेशक मंडल को इन दोनों पेशेवरों के विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक ज्ञान और अनुभव से जबरदस्त फायदा होगा। अग्रवाल जुलाई 2017 में टाटा संस से जुड़े थे और वह फरवरी में एन चंद्रशेखरन द्वारा टाटा संस की कमान संभाले जाने के बाद की गई प्रमुख नियुक्तियों में शामिल थे। उसके बाद नए चेयरमैन ने कई नियुक्तियां की जिनमें रूपा पुरुषोत्तम को बतौर मुख्य अर्थशास्त्री नियुक्त किया गया जबकि बनमाली अग्रवाल को बतौर अध्यक्ष और आरती सुब्रमण्यन को बतौर मुख्य डिजिटल अधिकारी नियुक्ति किया गया। भास्कर भट्ïट टाटा समूह में दमदार प्रदर्शन करने वाले शीर्ष लोगों में शामिल हैं। उन्होंने टाइटन का घड़ी बनाने से लेकर आभूषण और आईवियर तक के कारोबारी सफर में नेतृत्व किया। उन्होंने टाइटन को टाटा समूह की तीसरी सबसे अधिक मूल्यवान कंपनी बना दिया। टाइटन को इसे भुनाने में मदद करने का श्रेय भट्ïट को है और कंपनी का बाजार पूंजीकरण बढ़कर 10 अरब डॉलर से अधिक हो चुका है। शुक्रवार को टाइटन का बाजार पूंजीकरण 69,819 करोड़ रुपये रहा जो टाटा स्टील के बाजार पूंजीकरण 68,116 करोड़ रुपये से अधिक है। कई दशक तक टाटा समूह को सलाह देने वाली एक वैश्विक प्रबंधन सलाहकार फर्म के प्रमुख ने कहा, होल्डिंग कंपनी के बोर्ड में समूह के शीर्ष प्रदर्शन करने वाले वरिष्ठï अधिकारियों को लाए जाने से टाटा समूह को अपने मूल्य सृजन को गति देने में मदद मिलेगी। चंद्रशेखरन को टाटा समूह की सबसे अधिक मूल्यवान कंपनी टाटा कंसल्टैंसी सर्विसेज के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्याधिकारी से पदोन्नति देकर समूह की होल्डिंग कंपनी का चेयरमैन बनाया गया था। टीसीएस का बाजार पूंजीकरण आज 5,18,791 करोड़ रुपये रहा। चंद्रशेखरन को अक्टूबर में जगुआर लैंड रोवर के सीईओ राल्फ स्पेथ के साथ टाटा संस के बोर्ड में बतौर निदेशक शामिल किया गया था। जेएलआर टाटा मोटर्स का हिस्सा है जो समूह की दूसरी सबसे अधिक मूल्यवान कंपनी है। जेएलआर का बाजार पूंजीकरण आज 1,21,687 करोड़ रुपये रहा। इसके साथ ही टाटा संस के बोर्ड में अब 11 सदस्य हो चुके हैं। इनमें से सात सदस्य टाटा समूह से बाहर के हैं जिनमें विजय सिंह, नितिन नोहरिया, रोनेन सेन, फरीदा खंबाटा, वेणु श्रीनिवासन, अजय पीरामल और अमित चंद्रा शामिल हैं।
और ख़बरें >

समाचार