महामीडिया न्यूज सर्विस
इलेक्ट्रिक वाहनों पर निवेश कर भारत बचा सकता है 20 लाख करोड़

इलेक्ट्रिक वाहनों पर निवेश कर भारत बचा सकता है 20 लाख करोड़

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 304 दिन 15 घंटे पूर्व
21/11/2017
नई दिल्ली (महामीडिया) इलेक्ट्रिक व्हीकल पर इन्वेस्टमेंट भारत के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है. इससे अगले 13 साल में करीब 20 लाख करोड़ रुपए की बचत होने की उम्मीद लगाई जा रही है. उद्योग मंडल फिक्की और रॉकी माउंटेन इंस्टिट्यूट की रिपोर्ट कहती है कि भारत के लिए इलेक्ट्रिक कनेक्टेड मोबिलिटी सिस्टम को अपनाने से साल 2030 तक क्रूड ऑयल खर्च में  330 अरब डॉलर 20 लाख करोड़ रुपये की बचत हो सकती है. रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत प्राइवेट व्हीकल ऑनरशिप के पश्चिमी मोबिलिटी के अलावा शेयर्ड, इलेक्ट्रिक और कनेक्टेड मोबिलिटी प्रणाली विकसित कर सकता है. अगर मोबिलिटी तरीका भी अपनाया जाता है तो 2030 तक 46,000,000 करोड़ वाहन बेचे जा सकते हैं जिनमें दुपहिया, तिपहिया व चौपहिया वाहन होंगे. साल 2030 तक इससे 330 अरब डॉलर मूल्य का न केवल 876 मिलियन मिट्रिक टन तेल बचेगा बल्कि एक गीगा-टन कार्बन-डाइऑक्साइड का उत्सर्जन भी नहीं होगा. इलेक्ट्रिक वाहनों को भारत में शुरू करने के लिए सबसे बड़ी दिक्कते इनकी कीमत और चार्जिंग फैसलिटी है. वहीं,  उपभोक्ताओं में जागरूकता भी बढ़ानी पड़ेगी है.
और ख़बरें >

समाचार