महामीडिया न्यूज सर्विस
यूपी विधानसभा का शीतकालीन सत्र 14 दिसंबर से

यूपी विधानसभा का शीतकालीन सत्र 14 दिसंबर से

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 646 दिन 22 घंटे पूर्व
09/12/2017
LUCKNOW [ MAHAMEDIA] विधानमंडल का शीतकालीन सत्र इस बार भी सत्ता पक्ष व विपक्ष के बीच खींचतान का गवाह बनेगा। सत्ताधारी भाजपा निकाय चुनाव में भारी जीत से खासी उत्साहित है। मुख्य विपक्षी दल सपा तो पहले से ही बिजली की बढ़ी दरें, चुनावी वायदों को पूरा न करने, पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न करने व अपराधिक घटनाओं को मुद्दा बना कर सरकार के प्रति हमलावर है। बसपा व कांग्रेस भी निकाय चुनाव में धांधली का मुद्दा भी सपा के साथ ही उठा रही हैं यह सवाल विधानसभा में शिद्दत से उठेंगे। सत्ता में आए भाजपा सरकार को करीब नौ महीने पूरे होने को हैं। निकाय चुनाव में भारी जीत से उत्साहित सत्ता पक्ष विपक्ष के हमलों को जवाब देने को तैयार है। विधानसभा सत्र 14 दिसंबर से शुरू हो रहा है और इसके 22 दिसंबर तक चलने की संभावना है।पिछले सत्र में विपक्षी दलों ने सदन की कार्यवाही में हिस्सा न लेकर सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश की थी। तब बजट सत्र में विपक्षी नेताओं व सत्ता पक्ष के बीच तीखा विवाद हुआ था। इस बार भी सपा ही नहीं कांग्रेस, बसपा भी सरकार को उसके विशाल बहुमत के बावजूद घेरने की तैयारी में हैं। वहिष्कार के कारण पिछली बार सत्र समय से पहले खत्म हो गया था भाजपा सरकार मौजूदा वित्तीय वर्ष में 18 दिसम्बर को एक और अनुपूरक बजट लाने की तैयारी कर रही है।  इसके जरिए सीएम की उन घोषणाओं के लिए धन का बंदोबस्त होगा जो उन्होंने समय समय पर की हैं। प्रमुख सचिव वित्त संजीव मित्तल ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर बजट पर निर्देश लिए। मुख्यमंत्री ने जरूरी खर्चो के लिए ही बजट प्रावधान के निर्देश दिए। 200 करोड़ रुपये आकस्मिता निधि के रूप में रखे जाएंगे। सरकारी विभागों पर दबाव है कि वह केवल बहुत जरूरी प्रस्तावों के लिए पैसा बजट के जरिए मांगे। बजट मसौदे को अगले मंगलवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में पास कराया जाएगा ।              
और ख़बरें >

समाचार