महामीडिया न्यूज सर्विस
लड़कों को पटखनी देने में माहिर है ये दंगल गर्ल

लड़कों को पटखनी देने में माहिर है ये दंगल गर्ल

admin | पोस्ट किया गया 967 दिन 17 घंटे पूर्व
18/04/2017
 जबलपुर।बढ़ते अपराध और छेड़छाड़ की घटनाओं के देखते हुए लगता है कि लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग बहुत जरूरी है। यह कहना है जबलपुर के सिहोरा गांव की रहने वालीं जानकी गौर का। वे भोपाल स्थित बजरंग व्यायामशाला में दावं पेंच सीखने और सिखाने आई हुई थीं। जानकी देख नहीं सकतीं, लेकिन अपने दांव-पेंच से अच्छे-अच्छों को पटकनी दे देती हैं। ये दंगल गर्ल देश में कई मेडल जीतने के बाद अब एशियन पेरा जूडो चैम्पियनशिप में शामिल होने के लिए ताशकंद जा रही हैं जानकी बताती हैं कि, मैंने जूडो का प्रशिक्षण मैंने सिर्फ सेल्फ डिफेंस के लिए लिया था। इसके बाद लगा कि इसमें और बेहतर करने की जरूरत है। परिवार ने भी साथ दिया और मैं बतौर खिलाड़ी इसकी प्रैक्टिस करने लगी। जानकी ने खेल की शुरुआत लड़कियों के साथ की थी, लेकिन अब लड़कों को भी पटखनी दे देती हैं।जानकी इन दिनों इंटरनेशनल कॉम्पटीशन की तैयारी कर रही हैं। उनको विश्वास है कि वे गोल्ड मेडल जीतकर देश का नाम रोशन करेंगी। जानकी का आत्मविश्वास और खेल के प्रति लगन ऐसी है की हवा का रूख समझ कर सामने वाले पर वार करती हैं।आंखें नहीं होने के बावजूद जानकी ने भाग्य के आगे हार नहीं मानी और जूडो जैसे खेल का चयन कर कठोर अभ्यास किया। अब जानकी अपनी मन की आंखों से सामने वाले के दांव पेंच का ऐसा जवाब देती हैं कि उसके सामने किसी खिलाड़ी का टिक पाना आसान नहीं होता।पिछले तीन साल से अपनी खेल प्रतिभा को निखारने में जुटी जानकी गोवा, लखनऊ और हरियाणा में हुई राष्ट्रीय प्रतियोगिता में गोल्ड और सिल्वर पदक जीत चुकी हैं।इस आधार पर इनका चयन ताशकंद में 21 मई से होने जा रही एशियन चैम्पियनशिप के लिए किया गया है।
और ख़बरें >

समाचार

MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in