महामीडिया न्यूज सर्विस
महर्षि महेश योगी जन्म शताब्दी वर्ष पूर्णता समारोह 11 से भोपाल में

महर्षि महेश योगी जन्म शताब्दी वर्ष पूर्णता समारोह 11 से भोपाल में

admin | पोस्ट किया गया 678 दिन 8 घंटे पूर्व
09/01/2018
महर्षि महेश योगी संस्थान द्वारा बड़ी धूमधाम से परम् पूज्यनीय महर्षि महेश योगी जन्म शताब्दी वर्ष पूर्णता समारोह का तीन दिवसीय भव्य आयोजन भोपाल में किया जा रहा है। इस आयोजन में भारत के दिग्गज साधु-संत के अलावा विभिन्न विश्वविद्यालयों के कुलपति और शिक्षाविद् शामिल होंगे तो वहीं अलग-अलग विधाओं में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।
महर्षि जन्म शताब्दी पूर्णता समारोह भोपाल के ग्राम छान स्थित गुरूदेव ब्रह्मानंद सरस्वती आश्रम स्थित नये सभागार में 11, 12, और 13 जनवरी को तीन चरणों में आयोजित होगा। 11 जनवरी को सर्वप्रथम ''आर्शीवाद दिवस'' के रूप में मनाया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य रूप से अनन्त श्री विभूषित स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज, बद्रिका आश्रम (हिमालय) की उपस्थिति में महामण्डलेश्वर विश्वेश्वरानंदजी महाराज सन्यास आश्रम विलेपार्ले मुम्बई, महामण्डलेश्वर स्वामी डाॅ. उमाकान्तानंद सरस्वती जी महाराज, कनखल हरिद्वार, श्री रामानुजाचार्य श्री स्वामी विश्वेश प्रपन्नाचार्य जी महाराज अयोध्या, महामण्डलेश्वर श्री प्रेम शंकर दास जी श्रीराम धाम सिद्ध विद्यापीठ विद्याकुण्ड अयोध्या, श्री कन्हैयादास जी महाराज रामायणी अध्यक्ष संत सभा सन्कादिक आश्रम अयोध्या, सद्‌गुरु श्री जितेन्द्र नाथ महाराज जी श्री दत्तपीठ, सूर्जी अंजनगांव महाराष्ट्र, श्री रघुनाथ दास देसिक जी जगदगुरू रामानुजाचार्य श्री पीठ्म चेरीटेवल सेवा ट्रस्ट अयोध्या, निर्वाण पीठधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर राजगुरू स्वामी विशोकानंद भारती जी महाराज बीकानेर, श्री सुरेश दास जी महाराज महंत दिगम्बर अखाड़ा अयोध्या एवं महंत श्री 1008 चन्द्रमा दास जी महाराज गुफा मंदिर भोपाल उपस्थित रहेंगे और अपने सम्बोधन से ज्ञान की गंगा बहाएंगे। इन सब अतिथियों का स्वागत ब्रह्मचारी गिरीश जी करेंगे तथा इस आर्शीवाद दिवस  कार्यक्रम के उद्घाटन के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र पटवा एवं सांसद आलोक संजर और विधायक रामेश्वर शर्मा सहित विभिन्न आमंत्रित अतिथि लोग उपस्थित रहेंगे। कार्यक्रम प्रातः 10 बजे आरंभ होकर शाम तक चलेगा।
12 जनवरी को देश के प्रसिद्ध शिक्षाविदों की उपस्थिति में ''ज्ञानयुग दिवस'' मनाया जाएगा। इस दिन सौ वर्ष पूर्व परम् पूज्यनीय महर्षि जी का भारत की धरती पर जन्म हुआ था। महर्षि जी ने अपने जीवनकाल में भारत ही नहीं लगभग पूरी दुनिया में ज्ञान का प्रकाशमय वातावरण निर्मित किया। इसलिए हर वर्ष 12 जनवरी को महर्षि संस्था इस दिन को ज्ञान युग दिवस के रूप में मनाती है।
इस बार ज्ञान युग दिवस समग्र शिक्षा-वर्तमान आवश्यकता विषय पर केन्द्रित रहेगा जिसमें सभी आमंत्रित शिक्षाविद् अपने सुझाव एवं मार्गदर्शन देंगे। ज्ञानयुग दिवस समारोह का उद्घाटन अनंत श्री विभूषित स्वामी वासुदेवानंद सरस्वती महाराज जी की उपस्थिति में मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री सीताशरण शर्मा करेंगे। इस अवसर पर ब्रह्मचारी गिरीश जी भी अपना उद्बोधन देंगे। कार्यक्रम में श्री राजेश कुमार चतुर्वेदी नेशनल स्किल्स डेवलपमेंट एजेंसी दिल्ली, प्रो. भुवनेश शर्मा कुलपति महर्षि महेश योगी वैदिक विश्वविद्यालय जबलपुर, प्रो. जी.डी. शर्मा कुलपति बिलासपुर विश्वविद्यालय, डाॅ. आर.एस. शर्मा कुलपति मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, डाॅ. प्रमोद वर्मा कुलपति बरकतउल्ला विश्वविद्यालय, प्रो. दुर्ग सिंह चौहान कुलपति जी. एल. ए. विश्वविद्यालय मथुरा, डाॅ. रविन्द्र आर.कान्हेरे कुलपति भोज मुक्त विश्वविद्यालय भोपाल, डाॅ. सुनील कुमार गुप्ता कुलपति राजीव गांधी प्रोद्योगिकी विश्वविद्यलाय भोपाल, प्रो. यजनेश्वर शास्त्री कुलपति भारतीय बौद्व अध्ययन विश्वविद्यालय सांची, श्री शशांक द्विवेदी डिप्टी डायरेक्टर मेवाड़ यूनिवर्सिटी गाजियाबाद, आचार्य रामदेव कुलपति अटल बिहारी वाजपेई हिन्दी विश्वविद्यालय भोपाल, डाॅ. के.के. अग्रवाल अध्यक्ष हार्ट केयर फाउण्डेशन आॅफ इंडिया एण्ड मेडिकल एसोशियेशन दिल्ली, महामहोपाध्याय आचार्य इच्छाराम द्विवेदी श्री लाल बहादुर शास्त्री संस्कृत विद्यापीठ दिल्ली और डाॅ. राम विनय सिंह प्रोफेसर डीएवी पीजी काॅलेज देहरादून अपना-अपना मार्गदर्शन देंगे। यह कार्यक्रम प्रातः दस बजे से आरंभ होकर शाम तक चलेगा।
समारोह में तीसरा दिन 13 जनवरी को ''सांस्कृतिक दिवस'' के रूप में मनाया जाएगा। इस कार्यक्रम का उद्घाटन सहकारिता एवं पंचायत और ग्रामीण विकास मंत्री श्री विश्वास सारंग, महर्षि संस्था के प्रमुख ब्रह्मचारी गिरीश जी की उपस्थिति में करेंगे। प्रातः दस बजे से आयोजित कार्यक्रम में सबसे पहले राजधानी स्थित महर्षि विद्या मंदिर के छात्र-छात्राओं द्वारा भक्ति गीत एवं नृत्य की प्रस्तुति होगी तत्पश्चात् विश्व विख्यात तालवाद्य कलाकार तालयोगी पद्मश्री पंडित सुरेश तलवलकर एवं उनके साथ सुश्री सावनी तालवलकर (तबला) ओमकार दल्वी (पखावज) नागेश आडगांवकर (गायन) और तन्मय देवचाके (हरमोनियम) मंत्र मुग्ध करने वाली संगीत की प्रस्तुति देंगे।
इसी दिन दूसरे सत्र में दोपहर को महर्षि सेंटर फाॅर एजुकेशनल एक्सीलेंस भोपाल के विद्यार्थियों द्वारा भक्ति गीत एवं नृत्य की प्रस्तुति दी जाएगी। तत्पश्चात् कार्यक्रम के अंत में विश्व प्रसिद्ध नृत्यांगना श्रीमती राजेश्वरी साईनाथ एवं मण्डली द्वारा भक्तिमय भारत नाट्यम नृत्य की प्रस्तुति आकर्षण का केन्द्र रहेगी। 

नीतेश परमार (मीडिया प्रभारी)
(मो.) 942005194


और ख़बरें >

समाचार