महामीडिया न्यूज सर्विस
'मास्साब' पहली हिंदी फिल्म जो प्राथमिक शिक्षा पर आधारित है

'मास्साब' पहली हिंदी फिल्म जो प्राथमिक शिक्षा पर आधारित है

Admin Chandel | पोस्ट किया गया 655 दिन 2 घंटे पूर्व
05/02/2018
नई दिल्ली (महामीडिया) बच्चों को लेकर हिंदी सिनेमा पर हमेशा ही उदासीन रवैया अपनाने का आरोप लगता रहा है, लेकिन इधर फिल्मकार अब बच्चों को लेकर भी फिल्मों का निर्माण कर रहे हैं. राजस्थान फिल्म फेस्टिवल में बड़ी फिल्मों के बीच कई ऐसी छोटी-छोटी फिल्में भी शामिल होने के लिए पहुंची थी, जिनकी चर्चा मीडिया में बहुत कम सुनाई दे रही है. ऐसी ही एक फिल्म है 'मास्साब'. 'मास्साब' आंचलिक भाषा का शब्द है जिसका मतलब टीचर होता है. बुंदेलखंड में शूट हुई 'मास्साब' की कहानी एक ऐसे शिक्षक के इर्द-गिर्द घूमती है, जो एक गांव के सरकारी स्कूल को मॉडल स्कूल में तब्दील कर देता है. ये फिल्म उच्च आदर्शों वाले एक ऐसे नायक का खाका बुनती चली जाती है, जिसके लिए शिक्षा कमाई का जरिया नहीं बल्कि अंधेरा दूर करने का माध्यम है. फिल्म प्राइमरी एजुकेशन पर बात करती है और संभवतः यह ऐसी पहली हिंदी फिल्म है जो पूरी तरह से प्राइमरी एजुकेशन के इर्द-गिर्द ही घूमती है. फिल्म के जरिए उन सवालों को उठाने की कोशिश की गई है जो प्राइवेट स्कूलों के दौर में धीरे-धीरे भारत की मुख्य राजनीति से भी गायब होते जा रहे हैं. फिल्म को तेलुगू सिनेमा के जाने-माने अभिनेता आदित्य ओम ने निर्देशित किया है. 
और ख़बरें >

समाचार