महामीडिया न्यूज सर्विस
>>
समाचार

  • अनुवांशिक बीमारी पर भी बीमा कंपनियों को देना होगा बीमा क्लेम

    नई दिल्ली (महामीडिया) रक्त चाप और मधुमेह जैसी आम हो चली बीमारियों को भी अनुवांशिक बीमारी बता बीमा दावा खारिज करने वाली बीमा कंपनियों को इरडा ने बड़ा झटका दिया है। भारतीय बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकरण ने सोमवार को बीमा कंपनियों को निर्देश दिया है कि वे किसी भी बीमाधारक के बीमा दावे को अनुवांशिक बीमारी के नाम पर खारिज नहीं कर सकतीं।  >>और पढ़ें

  • नवरात्रि में स्वास्थ्य के लिए खानपान का रखें ख्याल

    भोपाल (महामीडिया) चैत्र की नवरात्रि का आगमन हो चुका है. नौ दिनों तक चलने वाले इस पर्व में भक्त व्रत रखकर मां दुर्गा की उपासना करते हैं. मां की उपासना के ये नौ दिन बेहद पवित्र माने जाते हैं. नौ दिनों तक होने वाले इन व्रतों में स्वास्थ्य को कोई नुकसान ना हो, इसकेे लिए जरूरी है कि नवरात्रों में खानपान सही हो. 
    उपवास के दौरान फलों का सेवन किया जा&# >>और पढ़ें

  • रहेंगे फिट यदि हर रोज खाएंगे 7 किशमिश

    भोपाल (महामीडिया) किशमिश यानी स्वाद और सेहत से भरपूर. प्रतिदिन किशमिश का सेवन करने से कई प्रकार के स्वास्थ्य से जुड़े फायदे मिलते हैं. इसमें ऊर्जा प्रचुर मात्रा में पाई जाती है. आयुर्वेद में भी किशमिश को भिगोकर उसका पानी पीने के कई फायदे बताए गए हैं. किशमिश में पाया जाने वाला शुगर कंटेंट इसे भिगोने पर काफी कम हो जाता है, इसलिए इसे भिगोकर खा >>और पढ़ें

  • गर्मियों में स्वास्थ्य के लिए हीरा है खीरा

    भोपाल (महामीडिया) गर्मी का मौसम आ गया है, ऐसे में शरीर को पानी की ज्यादा जरूरत होती है. पानी की कमी को पूरा करने के लिए हमें खीरा जरूर खाना चाहिए. खीरा हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें पानी बहुत ज्यादा मात्रा में होता है और इससे हमारे शरीर में शीतलता बनी रहती है. खीरे में विटामिन्स की भरमार होती है, जो हमारे शरीर के लिए ब >>और पढ़ें

  • किडनी की डायलिसिस का विकल्प आयुर्वेद में है मौजूद

    भोपाल (महामीडिया)  किडनी खराब होने पर आमतौर पर मरीजों को डायलिसिस पर रखा जाता है जबकि आयुर्वेद में ऐसी दवाएं मौजूद हैं जो न सिर्फ किडनी के मरीजों को डायलिसिस पर जाने से बचाती हैं बल्कि डायलिसिस से छुटकारा भी दिलाती हैं। 5 जड़ी-बूटियों से बनी दवा 'नीरी केएफटी' को लेकर एक शोध पत्र में आयुर्वेद के ऐसे फ़ॉर्म्युलों का जिक्र किया गया है। 
  • आयुर्वेद के इन उपायों से बढ़ा सकते हैं स्मृति शक्ति

    भोपाल (महामीडिया) सफलता के लिए सबसे पहले अपने दिमाग को तेज रखना जरूरी है. कुछ लोग कितनी भी मेहनत कर लेतें है लेकिन उनका रिजल्ट औसत से आगे नहीं जा पाता है. इसका सबसे कारण दिमाग और दिमाग की ताकत का होता है. जिन लोगों का दिमाग तेज होता है उनकी स्मृति भी उतनी ही तेज होती है. साथ ही उनके अंदर तर्क की क्षमता अच्छी होती है. स्मृति को तेज करने के लिए आप कुछ >>और पढ़ें

  • आज वर्ल्ड किडनी डे है

    भोपाल (महामीडिया) आज वर्ल्ड किडनी डे है। किडनी को हेल्दी रखना कितना आसान है और उन आदतों के बारे में भी बताएंगे जो किडनी को नुकसान पहुंचाती है। 
    आप नारियल का पानी नियमित रूप से पिएंगे तो हमेशा स्वस्थ रहेंगे क्योंकि इसमें कुछ ऐसे उपयोगी तत्व हैं जो कि आपकी किडनी को स्वस्थ रखने में मदद करेंगे। यह आपके शरीर में टॉक्सिक सब्सटेंस को हट >>और पढ़ें

  • सस्ती हुई हार्ट, किडनी जैसी बीमारियों की दवा

    नई दिल्ली (महामीडिया) राष्ट्रीय औषध मूल्य निर्धारण प्राधिकरण ने कार्डियोवस्कुलर, किडनी संक्रमण, सांप काटने समेत 12 तरह की दवाओं की कीमतों में कमी करने का फैसला लिया है। इसके अलावा एनपीपीए ने खुदरा बिक्री पर भी लाभ कम किया है। आदेश के मुताबिक, नौ तरह की दवाओं की खुदरा कीमतों को कम किया है। नई अधिसूचना से इन दवाओं की कीमतों में करीब 54 फीसदी की & >>और पढ़ें

  • शरीर का कायाकल्प कर सकता है त्रिफला का सेवन

    भोपाल (महामीडिया) त्रिफला एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है. इस अद्भुत जड़ी बूटी का उपयोग हजारों सालों से भारत में आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया जा रहा है. त्रिफला ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जो शरीर का कायाकल्प कर सकती है. त्रिफला के सेवन से काफी फायदें हैं. त्रिफला चूर्ण महत्वपूर्ण औषधि है यह केवल कब्ज दूर करने ही नहीं बल्कि कमजोर शरीर को ऊर्जा देन& >>और पढ़ें

  • आखों की सेहत के लिए जरूरी है संतुलित आहार

    नई दिल्ली (महामीडिया) आखों की रोशनी कम होने के कई कारण हो सकते हैं. आखों की रोशनी जब प्रभावित होती है तो इसे दृष्टि दोष कहते हैं. आखों की रोशनी में कमी आने का सबसे बड़ा कारण बढ़ती उम्र हो सकती है इसके अलावा लगातार कंप्यूटर पर काम करते रहने से या फिर आखों संबंधी किसी बीमारी के चलते भी दृष्टि में दोष उत्पन्न हो सकती है. हालांकि दृष्टि दोष के और भी >>और पढ़ें

  • अस्थमा में रामबाण है आयुर्वेद के नुस्खे

    भोपाल (महामीडिया) अस्‍थमा का कोई स्थायी इलाज नहीं है लेकिन इस पर नियंत्रण जरूर किया जा सकता है। अस्‍थमा जानलेवा भी हो सकती है। इसीलिए कोई भी नुस्खा इस्तेमाल करने के साथ-साथ अपनी दवाईयां लेते रहना चाहिए और अपने पास इनहेलर जरूर रखना चाहिए। 
    केला: एक पके केले को छिलके सहित सेंककर बाद में उसका छिलका हटाकर केले के टुकड़ो में पिसी काल >>और पढ़ें

  • दर्द में आराम के साथ सेहत भी संवारती हल्दी

    भोपाल (महामीडिया) भारतीय घरों में होने वाले देसी इलाजों का फायदा अब दुनियाभर के डॉक्टर और विशेषज्ञ भी मानने लगे हैं. चोट, मोच या फिर बुखार में हल्दी को घरों में दवाई से पहले दिया जाता है, क्योंकि दर्द में हल्दी ज्यादा फायदेमंद होती है. हल्दी के फायदों पर पिछले दिनों हुई एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि अगर कोई इंसान दर्द में जल्दी आराम पाने के &# >>और पढ़ें

  • अब 300 तरह की दुर्लभ बीमारियों पर आएगी सरकार की महत्वकांक्षी योजना

    नई दिल्ली (महामीडिया) देश के 50 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य बीमा देने के साथ सरकार एक और महत्वकांक्षी योजना लेकर आ रही है। जल्द ही राज्य सरकारों के साथ मिलकर देश में दुर्लभ बीमारियों के खिलाफ अभियान शुरू होने वाला है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय करीब 300 तरह की दुर्लभ बीमारियों को लेकर एक राष्ट्रीय पॉलिसी बनाने में जुटा है। उम्मीद है कि इस सा >>और पढ़ें

  • स्वस्थ तन और मन के लिए जरूरी है 'कर्मयोग'

    नई दिल्ली (महामीडिया) योग करने से आप तन और मन दोनों से स्वस्थ रहते हैं. कर्मयोग ऐसा साधन है जिसके जरिए आप हर काम को योग बना लेते हैं. कर्मयोग में शरीर, मन और आत्मा को एकसाथ लाने की कोशिश होती है. योग करने से आपका मन पवित्र होता है और उसपर आपका नियंत्रण रहता है. इसके अलावा निगेटिविटी दूर होगी और शरीर में पॉजिटिव एनर्जी का संचार होगा. भागम-भाग वाली  >>और पढ़ें

  • राजस्‍थान में स्‍वाइन फ्लू का कहर

    जयपुर (महामीडिया) राजस्थान में स्वाइन फ्लू के प्रकोप को रोकने में सरकारी मशीनरी फेल होती दिख रही है। दो महीने भी नहीं बीते हैं कि राज्य में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या बढ़कर 88 तक पहुंच गई है। अब तक 976 लोग जांच में इस बीमारी के विषाणु से संक्रमित पाए गए हैं। स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामले से राज्य में लोग भय के माहौल में जी रहे हैं।
    >>और पढ़ें


नये चित्र

महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
योग
योग
विराट जीत
विराट जीत
कुछ और चित्र
MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in