महामीडिया न्यूज सर्विस
>>
समाचार

  • महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव में अवार्ड पाकर चमक उठे बच्चों के चेहरे

    भोपाल (महामीडिया) भोपाल के सेंटर फाॅर एजूकेशनल एक्सीलेंस, लांबाखेड़ा, भोपाल में विगत 26 अक्टूबर से चल रहे महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव में गुवाहटी रीजन प्रथम स्थान एवं जबलपुर दूसरे स्थान पर रहा। व्यक्तिगत स्पर्धाओं में सर्वाधिक पुरूस्कार गुवाहटी रीजन ने प्राप्त किये हैं। इनको कुल 15 पुरूस्कारों के साथ-साथ ओवर आल चैंपियन >>और पढ़ें

  • महर्षि सांस्कृतिक महोत्सव में असम का दबदबा

    भोपाल। महर्षि महेश योगी संस्थान द्वारा आयोजित 10 वें राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव महोत्सव में देश के पूर्वोत्तर राज्य असम के छात्र-छात्राओं ने शानदार सांस्कृतिक छठा बिखेरते हुए ओवर ऑल चैंपियनशिप जीती। दूसरे सस्थान पर मप्र का जबलपुर रहा। सभी विजेताओं और उप-विजेताओं को महर्षि  विद्या मंदिर विद्याालय समूह के अध्यक्ष ब्रम्ह्राचार&# >>और पढ़ें

  • भावातीत ध्यान एवं योग से ओतप्रोत महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव

    भोपाल(महामीडिया) महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव का आज तीसरा दिन है। सेंटर फाॅर एजूकेशनल एक्सीलेंस, लांबाखेड़ा, भोपाल के परिसर में आयोजित इस रंगारंग कार्यक्रम में आर्केस्ट्रा से लेकर क्विज प्रतियोगिताओं में भारतीय संस्कृति सहित भावातीत ध्यान एवं योग स्पष्ट रूप से परिलक्षित होता है। महर्षि व >>और पढ़ें

  • अनेकता में एकता का संदेश देता महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव

    भोपाल (महामीडिया) शुक्रवार को गणपति की वंदना पर आधारित नृत्य की प्रस्तुति के दौरान महर्षि विद्या मंदिर रतनपुर की छात्राओं ने गणेश की प्रतिमा प्रदर्शित कर मनमोहक नृत्य किया जिसे देखकर पूरा पंडाल तालियों से गूंज उठा। महर्षि सेंटर फार एजूकेशन एक्सीलेंस, लांबाखेड़ा में चल रहे राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव का शुक्रवार को दूसरा दì >>और पढ़ें

  • महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव की छटा में आनंद की अनुभूति

    भोपाल (महामीडिया) महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव विगत दस वर्षों से लगातार आयोजित किया जा रहा है। पहले इसका आयोजन सात क्षेत्रीय स्तरों पर होता था, उसके चुनिंदा विजेता राष्ट्रीय महोत्सव में शामिल होकर अपना प्रदर्शन करते थे। हमें खुशी है कि इसका आयोजन इस वर्ष भोपाल की धरती में महर्षि जन्म शताब्दी के रूप में मनाया जा रहा है। आ >>और पढ़ें

  • विभिन्न संस्कृतियों का संगम है महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव

    भोपाल (महामीडिया) भारत का अस्तित्व पूरे विश्व को जगाने का है। यदि भारतीय ही सो गये तो पूरे विश्व को कौन जगायेगा, यह महर्षि जी का जन्म शताब्दी वर्ष है जिसके तहत पूरे देश के 168 महर्षि विद्या मंदिरों के विजेता छात्र यहां सांस्कृतिक महोत्सव में शामिल होने आये हैं। यह राष्ट्रीय आनंद का महोत्सव है। इस सांस्कृतिक महोत्सव में पूरे देश की वि >>और पढ़ें

  • अनेकता में एकता का संदेश देता महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव

    भोपाल (महामीडिया) गणपति की वंदना पर आधारित नृत्य की प्रस्तुति के दौरान महर्षि विद्या मंदिर रतनपुर की छात्राओं ने गणेश की प्रतिमा प्रदर्शित कर मनमोहक नृत्य किया जिसे देखकर पूरा पंडाल तालियों से गूंज उठा। महर्षि सेंटर फार एजूकेशन एक्सीलेंस, लांबाखेड़ा में चल रहे राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव का आज दूसरा दिन है। इसके पश& >>और पढ़ें

  • महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव की छटा में आनंद की अनुभूति

    भोपाल (महामीडिया) महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव विगत दस वर्षों से लगातार आयोजित किया जा रहा है। पहले इसका आयोजन सात क्षेत्रीय स्तरों पर होता था, उसके चुनिंदा विजेता राष्ट्रीय महोत्सव में शामिल होकर अपना प्रदर्शन करते थे। हमें खुशी है कि इसका आयोजन इस वर्ष भोपाल की धरती में महर्षि जन्म शताब्दी के रूप में मनाया जा रहा है। आ >>और पढ़ें

  • विभिन्न संस्कृतियों का संगम है महर्षि राष्ट्रीय सांस्कृतिक महोत्सव

    भोपाल (महामीडिया) भारत का अस्तित्व पूरे विश्व को जगाने का है। यदि भारतीय ही सो गये तो पूरे विश्व को कौन जगायेगा, यह महर्षि जी का जन्म शताब्दी वर्ष है जिसके तहत पूरे देश के 168 महर्षि विद्या मंदिरों के विजेता छात्र यहां सांस्कृतिक महोत्सव में शामिल होने आये हैं। यह राष्ट्रीय आनंद का महोत्सव है। इस सांस्कृतिक महोत्सव में पूरे देश की वि >>और पढ़ें

  • छठ पूजा जरूरी है, जड़ों से जुड़े रहने के लिए

    नहाय खाय के साथ ही आज से 4 दिन का छठ पर्व शुरू हो गया है। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर छठ को लेकर कई तरह के मैसेज वायरल हो रहे हैं। इन्हीं में से एक मैसेज में कहा जा रहा है कि छठ पूजा जरूरी है, धर्म के लिए नहीं, बल्कि जड़ों से जुड़े रहने के लिए। मैसेज में आगे कहा गया है कि ये छठ जरूरी है, हम-आप सभी के लिए, जो अपनी जड़ों से कट रहे हैं। उन बेटों के लिए जिनके घर आने का  >>और पढ़ें

  • छठ पूजा का महत्व

    भोपाल (महामीडिया) छ्ठ बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बहुत धूम-धाम से मनाया जाने वाला एक महापर्व है. यह कुल चार दिनों तक चलता है. इस पर्व पर छठी देवी को प्रसन्न करने के लिए किसी भी नदी के तट पर सूर्य देव की अराधना की जाती है. छ्ठ पूजा की शुरुआत नहाय-खाय से होती है और अंत चौथे दिन उगते हुए सूर्य को अर्घ्य देने से होता है. कार्तिक मास म& >>और पढ़ें

  • आज भाई दूज त्यौहार

    नई दिल्ली (महामीडिया)  दीपावली के पांच दिवसीय उत्सव का आखिरी दिन कार्तिक शुक्ल द्वितीया तिथि को भाई दूज के रूप में मनाया जाता है। भाई-बहन के स्नेह और प्रेम का प्रतीक भाई दूज का पर्व इस वर्ष 21 अक्टूबर शनिवार को है। कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को यम द्वितीया एवं भाई दूज कहा जाता है। यह पर्व मनाने का शुभ मुहूर्त सुबह 7.50 बजे से 9.15 बजे & >>और पढ़ें

  • इस बार देव उठनी एकादशी पर नहीं हो सकेंगे शादी फेरे

    इंदौर (महामीडिया)  इस बार देव प्रबोधिनी एकादशी (31 अक्टूबर) पर गुरु अस्त रहेगा। इसके चलते अबूझ मुहूर्त में से एक माने जाने वाली इस तिथि पर विवाह आदि मंगल कार्य नहीं हो पाएंगे। 10 अक्टूबर को अस्त हो चुके गुरु का उदय 11 नवंबर होगा लेकिन विवाह के शुद्ध मुहूर्त 19 नवंबर से हैं। ज्योतिषाचार्य देवेंद्र कुशवाह के अनुसार ग्रह के देर से उदय होने के कारण विवाह è >>और पढ़ें

  • गावेर्धन पूजा - लोगों के ऊपर से गुजरीं सैकड़ों गाय

    उज्जैन(महामीडिया) बड़नगर तहसील के लोहारिया गांव में दिवाली के दूसरे दिन गावेर्धन पूजा पर लोहारियां गांव में 'गाय गौहरी' का पर्व मनाया गया। सालों से चली आ रही इस अजीब परंपरा में मन्नत पूरी होने के बाद सड़क पर लेटे लोगों को सैकड़ों गाय कुचलते हुए गुजर गईं। 
    उज्जैन की बड़नगर तहसील के गांव भिड़ावद और झाबुआ जिले में 'गाय गौहरी' का पर्व परंपरागत र& >>और पढ़ें

  • इस रूप चौदस में महिलाएं घर पर ही पा सकती हैं पॉर्लर वाला लुक

    इंदौर (महामीडिया) दिवाली में घर को सजाने के साथ ही महिलाएं खुद को खूबसूरत बनाने में भी कोई कसर नहीं छोड़ती। सफाई और शॉपिंग के बाद बारी आती है कुछ समय खुद के लिए निकालने की, स्वयं को सजाने संवारने का यह मौका मिलता है रूप चौदस को। कई महिलाएं तो पार्लर जाकर अपना लुक निखार लेती हैं, लेकिन जो कामकाजी महिलाएं हैं या जिनके पास वक्त की कमी है, वे घ >>और पढ़ें


नये चित्र

महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
योग
योग
विराट जीत
विराट जीत
कुछ और चित्र
MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in