महामीडिया न्यूज सर्विस
>>
समाचार

  • घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र शुरू

    जयपुर [महामीडिया]: शक्ति, सामर्थ्य और सफलता के उत्सव नवरात्र गुरुवार से आरंभ हो गए। घर व मंदिरों में घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र की शुरूआत हो गई जो नौ दिन तक चलेगी। अष्टमी पूजन 28 को किया जाएगा। मंदिरों में तड़के से ही भक्तों की लंबी कतारें लग गईं। जयपुर के आमेर में शिला देवी के मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त मां के दर्शन करने पहुचे। देव >>और पढ़ें

  • इस बार गरबे में रिद्म गीतों पर थिरकने को तैयार युवा

    भोपाल [महामीडिया]: अभिव्यक्ति गरबा महोत्सव में हजारों प्रतिभागियों को गरबा की रिद्म और गीतों पर थिरकाने के लिए हारमनी ग्रुप के कलाकारों ने भी इस बार पारंपरिक गरबा गीतों के साथ फ्यूजन डांस नंबर्स भी तैयार किए हैं। कलाकारों ने मंगलवार को म्यूजिक की फाइनल रिहर्सल की। बुधवार और गुरुवार को शाम 4ः00 बजे भेल दशहरा मैदान पर ग्राउंड रिहर्सल होगी। हार& >>और पढ़ें

  • सर्व पितृ अमवस्या पर सभी पितरों का श्राद्ध

    रायपुर [महामीडिया]:   पितृ पक्ष में जो लोग अपने पूर्वजों के अर्पण-तर्पण के निमित्त किए जाने वाले हवन, पूजा-पाठ का खर्च नहीं उठा सकते मगर पितरों का श्राद्ध करने की चाहत मन में है। ऐसे लोगों के लिए पितृ मोक्ष अमावस्या यानी 19 सितंबर को बूढ़ेश्वर मंदिर घाट पर विशेष व्यवस्था की गई है। यहां बिना एक पैसा खर्च किए हवन-पूजन और पंडितों के मुखारविंद से मंत्ë >>और पढ़ें

  • अमावस्‍या का द‍िन बेहद खास , श्राद्ध व तर्पण अन‍िवार्य

    प‍ितृ पक्ष हर साल भाद्रपद शुक्ल पूर्णिमा से शुरू होता है और आश्विन कृष्ण अमावस्या तक रहता है। हिंदू धर्म में पितरों के प्रत‍ि श्रद्धा भाव से श्राद्ध व तर्पण करना अनि‍वार्य माना जाता है। इससे प‍ितर अपनी संतानों से खुश होते हैं और उन्‍हें आशीर्वाद देते हैं। ज‍िससे संतानों के जीवन में खुशि‍यां आती हैं। आर्थि‍क व मानस‍िक परेशानि‍यां दूरी ह&# >>और पढ़ें

  • धूमधाम से हो रही विश्‍वकर्मा पूजा

    पटना। सृष्टि के आदि शिल्पकार भगवान विश्वकर्मा की पूजा रविवार को बिहार में श्रद्धापूर्वक की जा रही है। हर साल 17 सितंबर को उनकी पूजा की जाती है। विश्‍वकर्मा पूजा के अवसर पर आइए जानते हैं कौन हैं भगवान विश्‍वकर्मा, कैसे होती है उनकी पूजा और क्‍या है इस साल पूजा का श्‍ुाभ मुहूर्त।

    सृष्टि के निर्माता विश्‍वकर्मा
    मान्‍यता है कि भगव& >>और पढ़ें

  • गणेशजी को विदाई

    मुंबई.महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में 10 दिनों से चल रहा गणेशोत्सव आज समाप्त हो रहा है। 10 दिनों तक बप्पा को अपने घर में रखने के बाद भक्त अब ढोल-नगाड़ों की थाप पर नाचते गाते हुए उन्हें विदा कर रहे हैं। मुंबई, पुणे में भव्य तरीके से बप्पा को विदाई दी जा रही है। इसी कड़ी में प्रदेश के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने भी एक बड़े टव तालाब में बप्पा का व >>और पढ़ें

  • लव-कुश जयंती आज, शोभा यात्रा निकलेगी

    भोपाल। कुशवाह समाज के तत्वावधान में रविवार को लव-कुश जयंती श्रद्धा से मनाई जाएगी। इस अवसर पर छोला दशहरा मैदान से भव्य शोभा यात्रा निकलेगी। महासभा के संगठन मंत्री दिनेश कुशवाह के मुताबिक लव-कुश जयंती के अवसर पर छोला रोड धर्मकांटा स्थित श्रीमहाकाल में विशेष अनुष्ठान होंगे। इसके पूर्व सुबह 11 बजे छोला दशहरा मैदान से भगवान लव-कुश की शोभा यात्ë >>और पढ़ें

  • एकादशी पर होगी तीन देवताओं की पूजा

     एकादशी पर होगी तीन देवताओं की पूजाएकादशी पर होगी तीन देवताओं की पूजा11 द‍िवसीय गणेश महोत्‍सव के दौरान आज एकादशी है। ऐसे में यहू मूहूर्त खास है। आज के द‍िन भगवान गणेश की पूजा के साथ ही व‍िष्‍णु जी और लक्ष्‍मी की पूजा करना फलदायी है...
    आज है व‍िश्‍ोष योग
    शास्‍त्रों के मुताब‍िक एकादशी और भगवान व‍िष्‍णु से जुड़ी है। जीवन में सफलता, शांति और आध >>और पढ़ें

  • सितंबर माह में श्राद्ध, नवरात्रि और दशहरा का रहेगा उत्साह

     नई दिल्‍ली ( महामीडिया)  सितंबर माह शुरू हो चुका है। ये 30 दिन धार्मिक लिहाज से बहुत अहम है। इन्ही तीस दिनों में श्राद्ध पक्ष, नवरात्रि और दशहरा आएगा। 02 सितंबर, शनिवार को देशभर में ईद-उल-जुहा यानी बकरीद का उत्साह रहेगा। इसके अगले दिन 03 सितंबर (रविवार) को दक्षिण भारत में ओणम पर्व मनाया जाएगा।गणपति बप्पा की विदाई का दिन 05 सितंबर (मंगलवार) रहेगा। इस दिन &# >>और पढ़ें

  • डोल ग्यारस पर चल समारोह दो सितंबर को

    नीमच [महामीडिया]: यादव समाज सेवा समिति सिटी स्थित राधा कृष्ण मंदिर में डोल ग्यारस पर्व 2 सितंबर को मनाएगी। अध्यक्ष गजेंद्र यादव, सचिव दीपेश यादव ने बताया आयोजन की तैयारियां की जा रही है। दो सितंबर को शाम चार बजे मंदिर परिसर से ढोल-ढमाकों , डीजे, बैंड एवं अखाड़े के साथ चल समारोह निकाला जाएगा। जो प्रमुख मार्गों से होते हुए रात 12 बजे राठौर प >>और पढ़ें

  • 25 अगस्त को है गणपति स्थापना और 5 सितंबर को है विर्सजन

    गणपति की स्थापना से पहले भक्त उनकी प्रतिमा स्थापना से 1-2 दिन पहले अपनी सुविधा के अनुसार लाते हैं। ज्योतिष कमल श्रीमाली के अनुसार, यदि शुभ मुहुर्त में गणपति प्रतिमा घर लेकर आएं और पूरे विधि-विधान से पूजा करें तो इसका विशेष लाभ मिलता है। इस साल भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 25 अगस्त को पड़ रही है। देशभर में इस दिन गणेशजी की मूर्ति स्थापना क&# >>और पढ़ें

  • भद्रा पाताल लोक में होने से गणेश स्थापना में रोड़ा नहीं

    रक्षाबंधन के बाद अब 25 अगस्त को पड़ रही गणेश चतुर्थी पर भी भद्रा का योग है। गणेश प्रतिमाएं स्थापित करने वाली समितियों के सदस्यों में असमंजस की स्थिति है कि आखिर प्रतिमा की स्थापना किस मुहूर्त में की जाए। समिति वाले पंडित-पुजारियों से खास मुहूर्त के बारे में जानकारी ले रहे हैं। पंडितों का मानना है कि चूंकि भगवान गणेश प्रथम पूज्य देव हैं, इसलिए च >>और पढ़ें

  • शिवजी से वरदान में अटल सुहाग की कामना

     सुहागिनों के महापर्व के रूप में प्रचलित हरतालिका तीज भाद्रपद, शुक्ल पक्ष की तृतीया के दिन मनाया जाता है. हस्त नक्षण में होने वाला यह व्रत सुहागिनें पति की लंबी आयु तथा अविवाहित युवतियां मनवांछित वर के लिए करती हैं. इस दिन शिव-पार्वती की पूजा होती है. ऐसा माना जाता है कि माता पार्वती और शिव अपनी पूजा करने वाली सभी सुहागिनों को अटल सुहाग का वरदा >>और पढ़ें

  • उज्जैन में सोमवाती अमावस्या पर निकली शाही सवारी

    उज्जैन (महामीडिया)ः 21 अगस्त सोमवार (सोमवती अमावस्या) के विशेष दिन को उज्जैन में भगवान महाकालेश्वर की शाही सवारी निकली जिसकी झलक देखने के लिये भक्तो की भारी भीड़ लगी रही जहां तक नजर जा रही थी वहां भक्त ही भक्त दिख रहे थे ऐसा दृष्य उज्जैन में सिहंस्थ के समय देखने को मिलता हैं जो कल सोमवार शाही सवारी निकलते समय था। लगभग शाम 4 बजे महाकाल मंदिर से र >>और पढ़ें

  • एक ऐसी परंपरा जो देती है पशु संरक्षण का संदेश

    मप्र - छत्तीसगढ़  एवं महाराष्ट्र का प्रमुख पर्व पोला  हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। खेतों में काम करने वाले किसानो अपने बैलों का साज-श्रृंगार और पूजा-अर्चना कर छत्तीसगढ़ी व्यंजनों का भोग लगाया। बाजार में बच्चों ने मिट्टी के बैलों की पूजा करके चलाने का आनंद उठाया। पोला के अवसर पर पहले बैल सजावट एवं बैल दौड़ मुख्य आयोजन रहता था लेकिन इस तरह आयोजन >>और पढ़ें


नये चित्र

महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
महर्षि विद्या मंदिर
योग
योग
विराट जीत
विराट जीत
कुछ और चित्र
MAHA MEDIA NEWS SERVICES

Sarnath Complex 3rd Floor,
Front of Board Office, Shivaji Nagar, Bhopal
Madhya Pradesh, India

+91 755 4097200-16
Fax : +91 755 4000634

mmns.india@gmail.com
mmns.india@yahoo.in