लंदन में भारतीय छात्रों की तादाद बढ़ी http://www.mahamediaonline.com

लंदन में भारतीय छात्रों की तादाद बढ़ी

लंदन  [ महामीडिया ] यह भारत के लिए गौरव की बात है। लंदन में जिस तरह से भारतीय छात्रों की तादाद बढ़ी है, उससे यह जाहिर है कि भारत प्रगति पर है। चीन और अमेरिका के बाद लंदन के विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले सबसे अधिक छात्र भारत के हैं। लंदन में भारतीय छात्रों की संख्या में 34.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।यह वृद्धि 2011-12 के बाद से सबसे अधिक है। इससे पहले तीसरे स्थान पर इटली था, जो अब चौथे स्थान पर पहुंच गया है। पांचवें स्थान पर फ्रांस है। 2018-19 में लंदन के विश्वविद्यालयों में अंतरराष्ट्रीय छात्रों की कुल संख्या 125,035 थी। चीन के सबसे अधिक छात्र लंदन के विश्वविद्यालयों में पढ़ते हैं। इनकी संख्या 25,650 है। दूसरे नंबर पर अमेरिका है, जिसके 7,460 छात्र पढ़ते हैं। भारत के 7,158 छात्र लंदन के विश्वविद्यालयों में पढ़ते हैं। लंदन के भारतीय मूल के उपमहापौर राजेश अग्रवाल ने कहा कि उच्च शिक्षा के लंदन आने वाले भारतीयों को देखकर बहुत खुशी होती है।
 

सम्बंधित ख़बरें