आज  विश्व अर्थराइटिस दिवस

आज  विश्व अर्थराइटिस दिवस

भोपाल [महामीडिया] बारह अक्टूबर यानी आज  विश्व अर्थराइटिस दिवस है और इस मौके पर गठिया के मरीजों के लिए खुशखबरी की बात यह है कि उनमें आम लोगों के मुकाबले कोरोना का घातक असर  कम देखने को मिल रहा  है।हर वर्ष 12 अक्टूबर का दिन विश्व गठिया दिवस  के तौर पर मनाया जाता है, ताकि लोगों को इसके बारे में जागरुक किया जा सके। ऑर्थराइटिस या पिर गठिया की बीमारी किसी को भी हो सकती है और ये बेहद तकलीफ देह होती है क्योंकि इसकी वजह से आपका जलना फिरना मुश्किल हो जाता है और साथ ही दर्द भी बहुत होता है। भारत में ऑस्टियोऑर्थराइटिस आमतौर पर 55-60 की उम्र में होता है, लेकिन आज कम उम्र में भी लोग आर्थरिटिस और अपंगता का शिकार बन रहे हैं। आर्थराइटिस का सबसे आम प्रकार है ऑस्टियोआर्थराइटिस । इसका असर जोड़ों, विशेष रूप से कूल्हे, घुटने, गर्दन, पीठ के नीचले हिस्से, हाथों और पैरों पर पड़ता है। खान-पान के तरीके भी इस बीमारी का कारण बन चुके, साथ ही शारीरिक एक्टिविटी भी इसका बहुत बड़ा जिम्मेदार है। महिलाएं कई कारणों से ऑर्थराइटिस का शिकार हो रही हैं, ऐसे मे आज हम आपको बताएंगे कि कैसे आप अपना खान-पान सही रखकर आप इसके असहनीय दर्द से बच सकती हैं। आखिर ठंड के दिनों में क्यों बढ़ जाता है जोड़ों का दर्द, जानिएं बचने के उपाय-
1.पालक
पालक का सेवन आप इस बीमारी में जरुर करें, इसमें आयरन की अच्छी मात्रा पाई जाात ही साथ ही इसमें विटामिन, विटामिन ए, फोलिक एसिड, मैग्नीशियम और बीटा कैरोटिन जैसे अच्छे गुण पाए जाते हैं। अर्थराइटिस और ओस्टियोपोरोसिस के रोगियों को इसका सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। 
2. हल्दी
हल्दी का इस्तेमाल तो लगभग लोग हर खाने में इस्तेमाल करते हैं। लोग हल्दी को दूध में भी शामिल करके लेते हैं और इसे एक औषधी के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। हल्दी को एंटीबायोटिक गुणों से भरपूर माना जाता है। हल्दी में मौजूद कुरक्युमिन गुण अर्थराइटिस की समस्या में आराम पहुचाने का काम कर सकते हैं।
3. लहसुन
लहसुन को भी लोग अपने खाने में इस्तेमाल करते हैं और इसकी तासिर गर्म होती है जिसकी वजह से सर्दी के दिनों में ठंड से बचाने का काम भी करता है। माना जाता है लहसुन का सेवन करने से हड्डियों के दर्द में आराम मिलता है।
4. विटामिन सी
विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स के गुण शरीर में होने वाले ज्वाइंट्स-पेन को रोकने में मदद करने के साथ-साथ हड्डियों के दर्द और थकान को कम करने में लाभदायक माने जाते हैं। विटामिन सी का सेवन करने से अर्थराइटिस की समस्या में राहत मिल सकती है।
5. पत्तागोभी
पत्तागोभी को सब्जी के रूप में इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है, कि ये शरीर के दर्द और हड्डियों के दर्द में बहुत लाभदायक मानी जाती है। नियमित पत्तागोफी का सेवन करके अर्थराइटिस की समस्या से बचा जा सकता है। 

सम्बंधित ख़बरें