इस्राइल के 'स्पाइडर' से बढ़ी हिंदुस्तान की ताकत, परीक्षण सफल

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

नई दिल्ली [महामीडिया]: भारत ने कम दूरी की त्वरित प्रतिक्रिया मिसाइल परीक्षणों की श्रृंखला के तहत सतह से हवा में मार करने में सक्षम मिसाइल स्पाइडर का गुरुवार को परीक्षण किया. आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि वायु रक्षा प्रणाली को और मजबूत करने के लिए अत्याधुनिक हथियार प्रणाली के विभिन्न मापदंडों की पुष्टि करने के लिए यह परीक्षण किया गया था. उन्होंने बताया कि स्पाइडर कम समय में वायु में शत्रु पर हमला करने के लिए बनाई गई सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल है. यह इस्राइल से ली गई मिसाइल प्रणाली है. कम ऊंचाई में इसकी मारक क्षमता 15 किलोमीटर तक है. हालांकि यह भारत में निर्मित सतह से हवा में मार करने में सक्षम आकाश मिसाइल से छोटी है. आकाश की मारक क्षमता 25 किलोमीटर है. सूत्रों ने बताया कि चांदीपुर के एकीकृत परीक्षण रेंज के लांच कॉम्प्लेक्स तीन से मोबाइल लॉंचर के जरिए स्पाइडर का परीक्षण किया गया और इसने चालक रहित विमान को लक्षित किया.
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जुलाई में इजराइल दौरे पर जाएंगे. यह किसी भी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला इजराइल दौरा है, पीएम मोदी के इस दौरे पर काफी बड़े रक्षा समझौते होने की संभावना हैं. इस दौरे पर एंटी टैंक मिसाइल्स और नेवल एयर डिफेंस सिस्टम की खरीद की डील हो सकती है. गौरतलब है कि भारत इजराइल का सबसे बड़ा हथियार आयातक है. भारतीय सेना के लिए स्पाइक एंटी टैंक मिसाइल्स और नेवी के लिये बराक-8 एयर मिसाइल्स की डील अगले दो माह में पूरी हो सकती है. यह सौदा लगभग डेढ़ बिलियन डॉलर का होगा, जिसके बाद भारत के बेडे़ में लगभग 8000 मिसाइलें आयेंगी.