कश्मीर के बदले हालात के बावजूद मां वैष्णो देवी के श्रद्धालुओं में उत्साह

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

जम्‍मू (महामीडिया) जम्मू-कश्मीर में हालात बेहद नाजुक बने हुये हैं। सुरक्षा की दृष्टि से अमरनाथ यात्रा व मचैल यात्रा पर सरकार द्वारा रोक लगा दी गई है, लेकिन मां वैष्णो की यात्रा पर कोई असर नहीं पड़ा है। मां वैष्णो देवी की यात्रा पूरी तरह से सुचारु है। श्रद्धालुओं का उत्साह बरकरार है और वे परिवार सहित मां के दर्शन कर रहे हैं। शनिवार को 30,500 श्रद्धालु मां के दरबार में हाजिरी लगाने पहुंचे थे। वहीं, रविवार को शाम 4:00 बजे तक करीब 18000 श्रद्धालु अपना पंजीकरण करवा कर परिजनों के साथ वैष्णो देवी भवन की ओर रवाना हो चुके थे। बरसात में पल-पल बदल रहे मौसम के चलते श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए श्राइन बोर्ड प्रशासन ने रात्रि के समय महत्वपूर्ण बैटरी कार मार्ग बंद रखने का निर्णय लिया है, ताकि भक्तों को किसी प्राकृतिक आपदा का सामना न करना पड़े। हालांकि निरीक्षण के बाद सुबह बैटरी कार मार्ग श्रद्धालुओं की आवाजाही के लिए खोल दिया जाता है। वहीं, परंपरागत पुराना मार्ग चौबीसों घंटे खुला हुआ है।
जम्मू-कश्मीर के मौजूदा हालात से हर तरफ असमंजस फैला गया है। अब राज्य में जारी घटनाक्रम का असर माता वैष्णो देवी यात्रा पर आगे दिखने की संभावना है। कटड़ा के होटल, गेस्ट हाउस और धर्मशालाओं में देश भर से श्रद्धालुओं द्वारा करवाई गई एडवांस बुकिंग अब रद्द करवाई जा रही हैं। हालांकि आज कटड़ा पहुंचे श्रद्धालुओं को यहा पहुंचकर जब इन परिस्थितियों का पता चला तो भी उनके चहरे पर दहशत नहीं बल्कि मां के दर्शनों के लिए उत्साह ही नजर आया। इन श्रद्धालुओं का कहना था कि वे मां वैष्णो के दर्शन करके ही वापिस लौटेंगे। वहीं इनमें वे श्रद्धालु भी शामिल थे, जो गृह विभाग की हिदायत के बाद अमरनाथ यात्रा पर तो नहीं जा सके इसीलिए उन्होंने मां वैष्णो देवी के दर्शनों का मन बनाया है।