निकाय चुनावों के अधिनियमों में बड़े बदलाव की तैयारी में कमलनाथ सरकार

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

भोपाल (महामीडिया) प्रदेश की मुख्यमंत्री कमलनाथ नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार निकाय चुनावों के अधिनियमों में बड़े बदलाव की तैयारी में जुटी हुई है। अब तक जनता ही अपने मोहल्ले का पार्षद, शहर का महापौर, नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष चुनती आई है, लेकिन अब यह हक उनसे छिनने जा रहा है। अब जनता केवल पार्षद चुन सकेगी,  महापौर, नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष पार्षद चुनेंगें। इस बदलाव के बाद बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है। बीजेपी द्वारा इस पर आपत्ति भी जताई जा सकती है, हालांकि अभी तक बीजेपी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया सामने नही आई है।
बता दें कि, प्रदेश में कुछ ही महिनों बाद नगरीय निकाय चुनाव होने है। वर्तमान में 16 नगर निगम के महापौर समेत अधिकांश नगर पालिका और नगर परिषद पर भाजपा का कब्जा हैं, लेकिन इस बार कांग्रेस की मंशा ज्यादा से ज्यादा सीटे हथियाने की है। लोकसभा में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस कोई रिस्क नही लेना चाहती है, जिसके चलते सरकार चुनाव से पहले बड़े बदलाव की तैयारी में है।