देश के कई राज्यों में गरबे और डांडिया की धूम

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

नई दिल्ली (महामीडिया) नवरात्रि के शुरू होते ही देश के कई राज्यों में गरबे और डांडिया की धूम है। गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, दिल्ली सहित कई राज्यों में यह उत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस बार युवाओं में चंद्रयान-2, अनुच्छेद-370, मोटर वाहन अधिनियम और सिंगल यूज प्लास्टिक बैन को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है।
गुजरात में गरबे की तैयारियों में जुटी लड़कियां इनसे जुड़ी टैटू के माध्यम से जागरुकता का संदेश देती दिखीं। गुजरात के अहमदाबाद, गांधीनगर, सूरत और बड़ोदरा सहित कई शहरों में उत्साह और उमंग के साथ गरबा और डांडिया का आयोजन किया जा रहा है।
बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करने के भारत सरकार के फैसले का गुजरात में जमकर समर्थन किया गया। इस बार गरबे में लड़कियां टैटू के माध्यम से मोदी सरकार के फैसले का समर्थन कर रही हैं।
गुजरात में नवरात्रि को गरबा या डांडिया उत्सव के रूप में मनाते हैं। गरबा एक तरह का डांस है जिसमें एक मिट्टी के दिये के चारो तरफ महिलाएं नाचती हैं। यहां गरबा का विशेष अर्थ है गरबा यानी गर्भ। गर्भ से तात्पर्य नये जीवन से है। दीपक को यहां नये जीवन के रूप में देखते हैं। 
गरबा के साथ ही डांडिया रास किया जाता है। जिसमें पुरुष एवं महिलाएं हाथों में बांस के सजे हुए डंडे लेकर गोले में नाचते हैं। नवरात्रि के समय पूरे गुजरात में डांडिया और गरबा की धूम रहती है और हर शहर में अलग तरीके से इस डांस को किया जाता है।