पश्चिम बंगाल और अनुच्छेद 370 के बीच विशेष संबंध है- अमित शाह

www.mahamediaonline.comकॉपीराइट © 2014 महा मीडिया न्यूज सर्विस प्राइवेट लिमिटेड

कोलकाता (महामीडिया) गृह मंत्री बनने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आज पहली बार पश्चिम बंगाल पहुंचे। उन्होंने कहा, "मैं आज हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध और ईसाई शरणार्थियों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि केंद्र आपको भारत छोड़ने के लिए मजबूर नहीं करेगा। अफवाहों पर ध्यान न दें। एनआरसी के पहले हम सिटीजनशिप अमेंडमेंट बिल लेकर आएंगे, जो यह सुनिश्चित करेगा कि इन लोगों को भारत की नागरिकता मिले।"
उन्होंने कहा, "पश्चिम बंगाल और अनुच्छेद 370 में एक स्पेशल कनेक्शन है, क्योंकि यह इसी मिट्टी का बेटा है। श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी ने एक नारा दिया था, एक निशान, एक विधान और एक प्रधान।" इससे पहले शाह कोलकाता के नेताजी इंडोर स्टेडियम पहुंचे। भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि तृणमूल ने जानबूझकर एनआरसी को लेकर राज्य में आतंक पैदा करने की कोशिश की है। शाह इस मुद्दे पर सभी आशंकाओं को दूर करेंगे।
शाह ने कई बार कहा है कि देश भर में एनआरसी लागू की जाएगी। वहीं, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इसका विरोध करती रही हैं। उन्होंने कहा था कि वह राज्य में एनआरसी कभी लागू नहीं होने देंगी।