मध्य प्रदेश में गुरु पूर्णिमा पर्व की धूम

मध्य प्रदेश में गुरु पूर्णिमा पर्व की धूम

भोपाल [ महामीडिया ]मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण को देखते हुए गुरु पूर्णिमा पर्व सावधानी से मनाया जा रहा है। बहुत कम संख्या में लोग अपने गुरु के दर्शन को पहुंच रहे हैं, वहीं गुरु मोबाइल पर वीडियो कॉलिंग के जरिए भक्तों को आशीर्वाद दे रहे हैं और कोरोना से बचने के लिए सभी नियमों को पालन करने की सलाह भी दे रहे हैं। शहडोल जिले के ऐतिहासिक मोहन राम मंदिर में गुरु पूर्णिमा उत्सव की शुरुआत हो गई है। जगतगुरु प्रपन्नाचार्य जी महाराज चित्रकूट धाम से यहां पधारे हुए हैं। इनके शिष्य शारीरिक दूरी का पालन करते हुए पूजन का कार्यक्रम कर रहे हैं। इस बार कोरोना के चलते पूजन कार्यक्रम के लिए दूरी बनाई गई है। भक्तों को 2 गज की दूरी का पालन करके अपने गुरु के दर्शन और उनका पूजन करने के लिए कहा गया है। इस मौके पर अपने शिष्यों को संदेश देते हुए स्वामी प्रपन्नाचार्य जी महाराज ने कहा है कि यह संकट का समय है और संकट की घड़ी में हमें भगवान पर पूरा भरोसा रखना है। उन्होंने कहा कि हमें सामाजिक दूरियां नहीं शारीरिक दूरियां बनानी है। उन्होंने यह भी कहा कि हमें एक दूसरे की मदद करनी है किसी भी तरह से हमें इंसानियत को नहीं भूलना है उन्होंने यह भी कहा कि हमें कोरोना से बचने के लिए प्रशासन ने जो जो भी निर्देश और नियम बताएं हैं उनका पूरी तरह से पालन करना है। आचार्य राघव कृष्ण जी महाराज ने वृंदावन में बैठकर ही अपने भक्तों को दर्शन दिए उन्होंने अपने मोबाइल से वीडियो कॉल करके अपने भक्तों को गुरु पूर्णिमा पर दर्शन दिए और संदेश दिया है कि हर युग में गुरु का महत्व रहा है। चाहे श्रीराम रहे हो या श्रीकृष्ण सबने ही गुरु को अपना आदर्श माना है। महाराज ने कहा कि हमें भी गुरुदेव के बताए रास्तों पर चलकर ही जीवन की यात्रा तय करनी है साथ ही कहा कि कोविड-19 के चलते भले ही आप लोग अपने घरों में हो लेकिन उनका मन और उनका स्नेह हमेशा उनके साथ है। वीडियो कॉल करके उन्होंने अपने शिष्यों को इस संकट की घड़ी में संयम बरतने का संदेश दिया है।
 

सम्बंधित ख़बरें