प्रायोजकों की कमी से जुझ रही हैं आईपीएल फ्रेंचाइजियां

प्रायोजकों की कमी से जुझ रही हैं आईपीएल फ्रेंचाइजियां

नई दिल्ली [ महामीडिया ]IPL 2020 की यूएई में 19 सितंबर से शुरुआत होगी, लेकिन फ्रेंचाइजियां इस समय नए प्रायोजकों की तलाश में परेशान हो रही हैं। Covid-19 महामारी की वजह से अधिकांश फ्रेंचाइजियों के प्रायोजक इस साल पीछे हट गए हैं जिसकी वजह से टीमों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।Covid-19 महामारी की शुरुआत के पहले फ्रेंचाइजियां इस सत्र के लिए प्रायोजकों के मामले में 95 प्रतिशत से अधिक बुक हो चुकी थी। अधिकांश फ्रेंचाइजियों के प्रमुख प्रायोजकों ने कोरोना वायरस की वजह से इस लीग से हटने का फैसला किया है। इसके चलते फ्रेंचाइजियों को नए प्रायोजकों की तलाश करनी पड़ रही है और वर्तमान परिस्थितियों में यह काम बेहद मुश्किल साबित हो रहा है।एक फ्रेंचाइजी ने कहा, हम खुश हैं कि आईपीएल इस साल आयोजित होने जा रहा है। यह टी20 लीग यूएई में होगी, लेकिन इस समय हमारी सबसे बड़ी चिंता प्रायोजकों को लेकर हैं। आईपीएल को जब स्थगित किया गया था, उस समय हम 95 प्रतिशत से ज्यादा बुक हो चुके थे, लेकिन Covid-19 महामारी की वजह से अब हमारे मुख्य प्रायोजक हट गए हैं। ऐसा अधिकांश फ्रेंचाइजियों के साथ हो रहा है।कोरोना लॉकडाउन की वजह से कंपनियों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है और इसके चलते वे इस लीग से दूर हो गए हैं। पहले यह आयोजन गर्मी में होना था, लेकिन अब ठंड में होगा। इस बदलाव का भी टीमों को नुकसान उठाना पड़ रहा है, क्योंकि अब AC निर्माता कंपनियां साथ में नहीं होंगी।

सम्बंधित ख़बरें