सभी शरणार्थियों को वापस भेजने वाला डेनमार्क पहला देश बना 

सभी शरणार्थियों को वापस भेजने वाला डेनमार्क पहला देश बना 

कोपेनहेगन (महामीडिया) डेनमार्क यूरोप का पहला ऐसा देश बन गया है, जिसने युद्धग्रस्त सीरिया से आए शरणार्थियों को वापस उनके देश लौटने को कह दिया है। डेनमार्क ने कहा है कि अब सीरिया रहने के लिए सुरक्षित हो गया है। साथ ही 94 शरणार्थियों का रेजिडेंसी परमिट वापस ले लिया गया है। शरणार्थियों को पहले डिपोर्टेशन कैंप भेजा जा रहा है। जिसके बाद वह अपने देश वापस लौटेंगे। ये कदम सीरिया की राजधानी डमासकस और उसके आसपास के इलाकों को सुरक्षित बताते हुए उठाया गया है।
सरकार ने साथ ही ये भी कहा है कि वह शरणार्थियों पर वापस लौटने के लिए दवाब नहीं बनाएगी। लेकिन मानवाधिकार समूहों का कहना है कि सरकार ऐसी कोशिश कर रही है कि शरणार्थियों के पास वापस लौटने के अलावा और कोई दूसरा विकल्प ही ना बचे। डेनमार्क के इमिग्रेशन मंत्री मैटियास टस्फे ने बीते हफ्ते कहा था कि उनका देश शुरू से ही सीरिया से आए शरणार्थियों के प्रति ‘खुला और इमानदार’ रहा है।
 

सम्बंधित ख़बरें