पाकिस्तान के मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले नाबालिग लड़कों को हिंदू समुदाय ने किया माफ 

पाकिस्तान के मंदिर में तोड़फोड़ करने वाले नाबालिग लड़कों को हिंदू समुदाय ने किया माफ 

कराची (महामीडिया) पाकिस्तान के सिंध प्रांत के छाछरो शहर के पास एक हिंदू मंदिर में चोरी और तोडफोड़ करने के आरोपी 4 लड़कों को हिंदू समुदाय ने सद्भावना दिखाते हुए माफ कर दिया है। इन लड़कों के खिलाफ दर्ज केस को वापस ले लिया गया जिसके बाद अदालत ने चारों को रिहा कर दिया। छाछरो के पास के गांव प्रेमो-जी-वेरी में मंदिर में बीती 26 जनवरी को चोरी की गई थी और इसे अपवित्र किया गया था। देव प्रतिमाओं को भी क्षतिग्रस्त किया गया था।
इस मामले की चौतरफा निंदा हुई थी। हिंदू समुदाय के साथ-साथ राजनेताओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर गहरी नाराजगी जताई थी। स्थानीय नागरिक प्रेम कुमार ने पुलिस में मामला दर्ज कराया था। जांच के बाद पुलिस ने 12 से 15 वर्ष के 4 लड़कों को गिरफ्तार किया था। यह सभी प्रेमो-जी-वेरी गांव के ही हैं और प्राइमरी स्कूल के छात्र हैं। लड़कों ने स्वीकार किया कि उन्होंने मंदिर के दानपात्र से धन की चोरी की थी।​

सम्बंधित ख़बरें