भोपाल में सिर्फ एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट के भरोसे शहर के 90 अस्‍पताल

भोपाल में सिर्फ एक ऑक्‍सीजन प्‍लांट के भरोसे शहर के 90 अस्‍पताल

भोपाल  [ महामीडिया] राजधानी भोपाल में कहीं भी लिक्विड ऑक्‍सीजन उपलब्‍ध नहीं है। इसके चलते ऑक्‍सीजन संकट गहराया हुआ है। किसी भी प्‍लांट और डीलर के पास भी ऑक्‍सीजन नहीं मिल रही है। लिहाजा सिर्फ गोविंदपुरा स्थित भारती एयर प्रॉडक्‍ट के भरोसे पूरे भोपाल के 90 अस्‍पताल है। यहां भी एक दिन में महज 900 सिलिंडर ही भरकर मिल सकते है। वहीं भेल भी मुसीबत के इस वक्‍त में ऑक्‍सीजन उपलब्‍ध करा रहा है, लेकिन उसके पास सिर्फ 600 सिलिंडर भरने की ही क्षमता है। ऐसे में 1500 सिलिंडर से भोपाल के सभी अस्‍पतालों में ऑक्‍सीजन सप्‍लाई होना नामुमकिन साबित हो रहा है।इधर, ऑक्‍सीजन को लेकर भेल प्‍लांट में लंबी भीड लगी हुई है। इसे देखते हुए नगर निगम कमिश्‍नर और अन्‍य अधिकारियों ने मौके पर जाकर कमान संभाली। भारती एयर प्रॉडक्‍ट में भी कुछ ऐसा ही आलम है। वहां कई बार हंगामा भी हुआ है।  ऑक्‍सीजन की कमी के चलते सभी अस्‍पतालों तक ऑक्‍सीजन पहुंचती रहे, इसके लिए भेल ने अपने प्‍लांट में नई व्‍यवस्‍था बना दी है। इसके तहत भेल के गेट नंबर छह में लंबी भीड लग गई है। भेल प्रबंधन ने निर्णय लिया है कि एक अस्‍पताल को सिर्फ 10 सिलिंडर ऑक्‍सीजन ही उपलब्‍ध कराई जाएगी, ताकि ज्‍यादा से ज्‍यादा अस्‍पताल कवर किए जा सकें। बता दें कि भेल प्रबंधन द्वारा अस्‍पतालों को निर्धारित प्रपत्र में जानकारी उपलब्‍ध कराने के बाद ही ऑक्‍सीजन दी जा रही है।

सम्बंधित ख़बरें