दिल्ली-एनसीआर से बाहर होंगे कई इलाके

दिल्ली-एनसीआर से बाहर होंगे कई इलाके

नई दिल्ली (महामीडिया) आने वाले सालों में दिल्ली-एनसीआर का दायरा घटाया जा सकता है. फिलहाल राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र लगभग 150-175 किलोमीटर तक फैला है, जो यूपी और हरियाणा के कई जिलों और ग्रामीण इलाकों को भी कवर करता है. हालांकि एनसीआर ड्राफ्ट रीजनल प्लान 2041 के अनुसार इसे घटाकर 100 किलोमीटर किया जा सकता है. इस 100 किलोमीटर के इलाके में लीनियर कॉरिडोर, एक्प्रेसवे, राष्ट्रीय राजमार्ग, क्षेत्रीय रैपिड ट्रांजिट सिस्टम और तेज गति के रेल नेटवर्क को स्थापित करने की योजना है.
इस नए प्लान के अनुसार इस 100 किमी के परिसीमन में आंशिक रूप से आने वाली तहसीलों को शामिल करने या छोड़ने का निर्णय संबंधित राज्य सरकारों पर छोड़ दिया जाएगा. सुझावों और आपत्तियों के लिए एक विस्तृत मसौदा योजना जल्द ही सार्वजनिक की जाएगी और उसके बाद, इसे एनसीआर योजना बोर्ड द्वारा अधिसूचित किया जाएगा. एनसीआर प्लानिंग बोर्ड ने शहरों के बीच बेहतर संपर्क बनाने के लिए ड्राफ्ट रीजनल प्लान-2041 को मंजूरी दे दी है. इस प्लान के तहत भविष्योन्मुख, झुग्गी मुक्त राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में एयर एंबुलेंस, हेलीटैक्सी, रोड, रेल और जलमार्ग के माध्यम से तेज गति संपर्क की परिकल्पना की गई है.
 

सम्बंधित ख़बरें