डबल फोर्टिफाइड नमक के इस्तेमाल से मध्यप्रदेश के एनीमिया में पांच फीसदी की कमी  

डबल फोर्टिफाइड नमक के इस्तेमाल से मध्यप्रदेश के एनीमिया में पांच फीसदी की कमी  

भोपाल [ महामीडिया] मध्यप्रदेश के 94 हजार से ज्यादा आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चों, गर्भवती एवं धाती माताओं और सरकारी अस्पतालों में मरीजों के लिए बनने वाले खाने में अब डबलफोर्टिफाइड नमक का इस्तेमाल किया जाएगा। प्रदेश के 20 जिलों में दो साल से इस नमक का प्रयोग के तौर पर इस्तेमाल हो रहा था। इसके अच्छे परिणाम आने पर इसे बच्चों, गर्भवती-धाती माताओं और मरीजों के खाने में इस्तेमाल करने का फैसला लिया गया है। सरकार का दावा है कि इसके इस्तेमाल से एनीमिया में पांच फीसदी  की कमी आई है। प्रदेश में छह से 59 माह के 68.9 फीसद बच्चे, 15 से 49 साल की 52.4 फीसद महिलाएं, 54 फीसद गर्भवती एवं 15 से 49 साल के 25.5 फीसद पुरुष खून की कमी के शिकार हैं।

सम्बंधित ख़बरें