रोजाना मीठे पेय पदार्थ लेने वाली महिलाओं में कैंसर होने का खतरा दोगुना

रोजाना मीठे पेय पदार्थ लेने वाली महिलाओं में कैंसर होने का खतरा दोगुना

भोपाल [ महामीडिया] अगर आपको रोजाना मीठे पेय यानी शुगर ड्रिंक्स लेने की आदत है तो अलर्ट हो जाएं। इनसे खासतौर पर युवा महिलाओं में कोलोरेक्टल कैंसर होने का खतरा दोगुना तक रहता है। ऐसी ड्रिंक्स से 50 साल की उम्र से पहले कैंसर हो सकता है। यह दावा वाशिंगटन यूनिवर्सिटी ऑफ स्कूल मेडिसिन के वैज्ञानिकों ने अपनी रिसर्च में किया है।13 से 18 साल की उम्र वाली महिलाओं में शुगर ड्रिंक लेने पर कोलोरेक्टल कैंसर होने का खतरा 32 फीसदी तक रहता है। वो जितना ज्यादा ऐसे पेय पदार्थों का सेवन करती हैं, कैंसर का खतरा उतना ज्यादा बढ़ता है। इसके मामले आर्थिक रूप से मजबूत देशों में अधिक देखने को मिले हैं।जिन मीठे पेय पदार्थों से कैंसर होने का खतरा है उनमें आर्टिफिशियल स्वीटनर भी शामिल है। इनकी जगह पर कॉफी, लो-फैट मिल्क, होल मिल्क अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं।

सम्बंधित ख़बरें