तीज-त्यौहारः शीतला सप्तमी व्रत आज

तीज-त्यौहारः शीतला सप्तमी व्रत आज

भोपाल (महामीडिया) सावन मास की सप्तमी के दिन शीतला माता की पूजा की जाती है। मां शीतला को मां दुर्गा का ही अवतार माना जाता है। मां का ये रूप काफी सरस और मोहक है। कहते हैं कि सावन की सप्तमी पर शीतला मां की विशेष पूजा करने से इंसान हमेशा स्वस्थ रहता है। इस बार ये पर्व आज है। संयोग से आज शुक्रवार है, जो कि मां लक्ष्मी का ही दिन कहलाता है। मां लक्ष्मी भी दुर्गा का ही एक रूप हैं, ऐसे में इस बार का शीतला सप्तमी व्रत काफी प्रभावी है। बता दें कि शीतला माता को बासी भोजन का भोग लगाया जाता है।
बता दें कि स्कंद पुराण में माता शीतला को रोगों से बचाने वाली देवी बताया गया है। मालूम हो कि माता शीतला अपने हाथों में कलश, सूप, झाड़ू और नीम के पत्ते धारण किए हुए रहती हैं और गधे की सवारी करती हैं।
पूजा मुहूर्त 

  • शुभ मुहूर्त- अभिजीत 30 जुलाई दिन शुक्रवार को सुबह 11:59 से दोपहर 12:52 
  • विजय मुहूर्त 30 जुलाई दोपहर 02:44 से दोपहर 03:38 
  • गोधुली मुहूर्त 30 जुलाई शाम 07:09 से शाम 07:27 

पूजा विधि

  • नहा-धोकर स्वच्छ कपड़े पहनें। 
  • शीतला सप्तमी के व्रत के दिन घरों में ताजा भोजन नहीं बनता है। भक्त इस दिन एक दिन पहले बने भोजन को ही खाते हैं और उसी को मां शीतला को अर्पित करते हैं। 
  • शीतला सप्तमी को लोग गुड़ और चावल का बने पकवान का भोग लगाते हैं। 
  • पूजा करने के बाद गुड़ और चावल का पकवान का वितरण करें। 

इन मंत्रों की कीजिए पूजा 
'वन्देऽहं शीतलां देवीं रासभस्थां दिगम्बरराम्‌, 
मार्जनीकलशोपेतां शूर्पालंकृतमस्तकाम्‌।

 

सम्बंधित ख़बरें